नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के भिम्बेर सेक्टर में सीमापार से हुई पाकिस्तानी सुरक्षा बलों की गोलीबारी में सात महीने के एक बच्चे के मारे जाने को लेकर आज पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त सैयद हैदर शाह को तलब किया गया और कड़ा विरोध दर्ज कराया गया. विदेश मंत्रालय ने कहा कि शाह से कहा गया कि पाकिस्तानी बलों द्वारा छोटे हथियारों एवं भारी हथियारों का इस्तेमाल करते हुए निर्दोष आम नागरिकों को ‘‘जानबूझकर निशाना’’ बनाना ‘‘बेहद निंदनीय है’’. Also Read - पाकिस्तान: कोरोना से लड़ाई में बाधा बनी तब्लीगी जमात की गतिविधियां, मुख्यालय में मिले 27 कोरोना संक्रमित

विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘21 मई को पाकिस्तानी बलों द्वारा किए गए बिना किसी उकसावे के संघर्ष विराम के उल्लंघन में सात महीने के एक बच्चे के मारे जाने को लेकर शाह को आज तलब किया गया और कड़ा विरोध दर्ज कराया गया.’’ मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तानी अधिकारियों से निर्दोष नागरिकों को मारने के इस तरह के नृशंस कृत्यों की जांच करने की और अपने बलों को इस तरह के कृत्यों से बचने के लिए तत्काल निर्देश देने को कहा गया. Also Read - Covid 19: पाक में हिंदुओं को सरकारी राशन तक नहीं दिया जा रहा, भूखे रहने की नौबत

विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘छोटे बच्चों सहित निर्दोष नागरिकों को निशाना बनाना सभी स्थापित मानवीय नियमों के एवं पेशेवर सैन्य आचरण के खिलाफ है.’’ मंत्रालय ने यह भी कहा कि पाकिस्तानी पक्ष से सीमा पार से गोलीबारी की आड़ सहित दूसरे तरीकों से आतंकियों की घुसपैठ में मदद बंद करने को भी कहा गया. Also Read - कोरोनावायरस से पीड़ित पाकिस्तान के दिग्गज स्क्वैश खिलाड़ी आजम खान का निधन

विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘नियंत्रण रेखा एवं अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बिना किसी उकसावे के लगातार जारी गोलीबारी एवं संघर्ष विराम उल्लंघन को लेकर भी हमारी गंभीर चिंताएं साझा की गईं. मंत्रालय ने कहा कि नियंत्रण रेखा एवं अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी बलों ने इस साल अब तक इस तरह के 1,088 उल्लंघन किए हैं जिनके कारण 36 लोग मारे गए और 127 घायल हो गए. मंत्रालय ने कहा, ‘‘2018 में भारतीय सुरक्षा बलों ने 53 आतंकियों की घुसपैठ की कोशिशें नाकाम कीं और नियंत्रण रेखा पार करते समय पांच आतंकियों को मार गिराया.’’

इससे पहले 17 मई को पाकिस्‍तान के विदेश कार्यालय ने कार्यवाहक भारतीय उच्‍चायुक्‍त को इसी तरह के मामले में तलब किया था. पाकिस्‍तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्‍ता मोहम्‍मद फैसल ने बताया था कि भारतीय बलों ने 15 मई को हॉटस्प्रिंग सेक्‍टर में अकारण गोलीबारी की जिसमें डेहरा शेर खान गांव का एक व्‍यक्ति मारा गया.