नई दिल्लीः रूस ने हाल ही में कोरोना वायरस की वैक्सीन का ऐलान किया है. रूस ने मंगलवार को दावा किया कि यहां कोरोना का टीका तैयार कर लिया गया है. जिसका इंसानों पर लगभग दो महीने परीक्षण किया गया और उसके बाद इसे सफल पाया गया है. लेकिन, जानकार रूस के इस दावे पर शक जाहिर किया है. जिसके बाद रूस के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराश्को ने दो हफ्ते के अंदर इस वैक्सीन को लॉन्च करने की बात कही है. इस बीच कोरोना संकट को मात देने के लिए भारत भी इसका टीका तैयार करने की दिशा में काम कर रहा है. Also Read - Corona Vaccine Update Good News: भारत रूस से खरीदेगा Sputnik-V की 10 करोड़ डोज, इस कंपनी के साथ हुआ करार, जल्द आएगी वैक्सीन

Coronavirus Covid-19 Indian Coronavirus Vaccine latest Updates Also Read - Covid-19 Vaccine News on 16 September 2020: सीरम इंस्टीट्यूट के साथ वैक्सीन का 2 अरब डोज बनाएगी अमेरिकी कंपनी

देश में कोरोना वायरस की वैक्सीन (Coronavirus Vaccine India) को लेकर रिसर्च और स्टडी तेजी से जारी है. इस बीच खबर है कि भारत बायोटेक (Bhara Biotech) द्वारा बनाए जा रहे कोरोना वायरस के वैक्सीन की टेस्टिंग का पहला फेज पूरा हो चुका है. India Today की खबर के मुताबिक, कमेटी जल्द ही पहले फेज के ट्रायल की फाइल सब्मिट कर सकती है. जिसमें इसकी पूरी जानकारी होगी. ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि सितंबर में भारत बायोटेक (Bhara Biotech) द्वारा बनाए जा रहे कोरोना वायरस के वैक्सीन के ट्रायल का दूसरा फेज शुरू हो सकता है. Also Read - Corona Vaccine Updates: भारत में Oxford-AstraZeneca की कोविड वैक्सीन का ट्रायल फिर होगा शुरू, सीरम इंस्टीट्यूट को DGCI की हरी झंडी

बता दें, भारत बायोटेक के तहत कुल 12 सेंटरों पर कोरोना वायरस की वैक्सीन पर ट्रायल चल रहा है. जिसमें 11 जगहों पर पहले फेज का ट्रायल लगभग पूरा हो चुका है, लेकिन दिल्ली एम्स में अभी यह ट्रायल पहले फेज पर ही है. दिल्ली AIIMS ने वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल के फेज 1 के लिए सिर्फ 16 लोगों को चुना है. शुरुआत में AIIMS करीब 100 उम्मीद्वारों पर यह ट्रायल करने जा रहा था, लेकिन बाद में सिर्फ 16 ही लोगों को चुना गया.

वहीं अन्य केंद्रों की बात करें तो अन्य 11 केंद्रों पर चले भारत बायोटेक के कोरोना वैक्सीन ट्रायल्स के लिए 375 लोग चुने गए हैं. अब जब, भारत बायोटेक द्वारा जारी कोरोना वैक्सीन के ट्रायल का पहले भेज खत्म होने वाला है तो ह्यूमन ट्रायल का दूसरा फेज संभवतः सितंबर के पहले सप्ताह में शुरू होने की उम्मीद जताई जा रही है. फेज 1 के ट्रायल के निष्कर्ष की रिपोर्ट जल्द ही दी जाएगी.