Indian Railway/IRCTC: भारतीय रेलवे जल्द ही विमानों के किराए की तर्ज पर पुनर्विकसित और अत्यधिक व्यस्त स्टेशनों पर यात्रियों से किराए में ‘यूजर चार्ज’ वसूलना शुरू करेगा. रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष बी के यादव ने बृहस्पतिवार को कहा कि यात्रियों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के क्रम में राजस्व जुटाने के लिए यह निर्णय किया गया है. Also Read - ट्रेन से कटकर हुई की हाथी और उसके बच्चे की मौत, वन विभाग ने जब्त किया रेल इंजन

इसके प्रभाव में आने के बाद यह पहली बार होगा जब रेल यात्रियों से इस तरह का शुल्क वसूला जाएगा. यादव ने कहा कि शुल्क मामूली होगा और यह देश के सात हजार रेलवे स्टेशनों में से लगभग 10-15 प्रतिशत स्टेशनों पर ही लागू होगा. Also Read - Mumbai Local News today 21 October 2020: मुंबई लोकल में आज से हुआ ये अहम बदलाव, महिलाओं के लिए टाइमिंग तय

अध्यक्ष ने कहा, ‘‘हम बहुत मामूली ‘यूजर चार्ज’ वसूल करेंगे. हम सभी स्टेशनों जो पुनर्विकसित हो रहे हैं, या नहीं, दोनों के लिए यूजर चार्ज संबंधी अधिसूचना जारी करेंगे.’’ Also Read - IRCTC/Indian Railway: ट्रेनों में अब नहीं मिलेगा खाना? जानें क्या है रेलवे की योजना

उन्होंने कहा कि ‘यूजर चार्ज’ सभी सात हजार स्टेशनों पर नहीं, बल्कि केवल उन्हीं स्टेशनों पर वसूल किया जाएगा जहां अगले पांच साल में यात्रियों की संख्या में वृद्धि होगी. यह लगभग 10-15 प्रतिशत स्टेशनों पर ही लागू होगा.

यह बयान ऐसे समय आया है जब देश में रेल किराए में संभावित वृद्धि और रेल क्षेत्र में निजी कंपनियों को लाए जाने पर चिंता व्यक्त की जा रही है. नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि पात्रता सुनिश्चित करेगी कि आगे चलकर यात्री किराए और माल भाड़े दोनों में कमी आएगी.’’