Indian Railways/IRCTC Latest Update: देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर कम होने के बाद ज्यादातर गतिविधियों को इजाजत दे दी गई है. रेलवे भी यात्रियों की सहूलियत का ख्याल रखता है. कोरोना संकट के दौर में भी रेलवे ने कई विशेष ट्रेनों का संचालन कर मुसाफिरों को उनकी मंजिल तक पहुंचाया है. इसके अलावा त्योहारी सीजन को ध्यान में रखते हुए भी अलग-अलग शहरों से रेलवे ने विशेष ट्रेनों के संचालन का ऐलान किया है. इन सबके बीच रेलवे ने लगभग 18 महीने से बंद एक सेवा को फिर से शुरू करने का ऐलान किया है.Also Read - Indian Railways/IRCTC Train Cancelled: चक्रवाती तूफान Jawad के चलते रद्द हुईं कई ट्रेनें, परेशानी से बचने के लिए यहां देखें पूरी लिस्ट

कोरोना के कहर के बीच रेलवे ने कैटरिंग सेवा को बंद कर दिया था, जिसे एक बार फिर से शुरू करने का ऐलान किया गया है. रेलवे की इस पहल के बाद निजी वेंडरों से ही यात्रियों को पैक्ड फूड का वितरण किया जाएगा. अब तक ट्रेन में सिर्फ ‘रेडी टू ईट’ की ही व्यवस्था थी, लेकिन यात्रियों से लगातार मिल रही शिकायतों के बाद भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने अब चरणबद्ध तरीके से कुछ चुनिंदा ट्रेनों में कैटरिंग सेवा शुरू करने का मन बनाया है. Also Read - IRCTC Latest News: आसानी से ट्रेन टिकट बुक करने के लिए ईमेल ID, फोन नंबर कर सकते हैं सत्यापित, जानें- क्या है तरीका?

रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnaw) ने अधिकारियों को इसको लेकर रूप रेखा तैयार करने के दिशानिर्देश दिए हैं. रिपोर्ट के मुताबिक ‘रेडी टू ईट’ फूड को लेकर लोग ज्यादा रुचि नहीं दिखा रहे थे. पहले के मुकाबले महज 30 फीसदी तक ट्रेनों में लोग खाना खरीदना पसंद कर रहे हैं. Also Read - Indian Railways/IRCTC Update: तत्काल टिकट चार्ज और Dynamic Fare में जल्द हो सकती है कटौती, जानें क्या है अपडेट

मालूम हो कि देश में कोरोना प्रसार के साथ ही लॉकडान के कारण यात्री ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह से बंद कर दिया गया था. हालांकि पहले वेव से दूसरे वेव के बीच जब स्थिति सामान्य हुई तो रेलवे ने यातायात सेवाओं को धीरे-धीरे बहाल करना शुरू किया. हालांकि इसके बावजूद ट्रेनों में कैटरिंग सेवा अब तक शुरू नहीं हो पाई है.

उधर, रेलवे की तरफ से सफर और रेल परिसर में रहने को लेकर जारी गाइडलाइंस को एक बार फिर 6 महीने के लिए बढ़ा दिया गया है. रेल मंत्रालय की तरफ से जारी नए दिशा निर्देश (Train Travel Guidelines) के अनुसार, ट्रेन में यात्रा के दौरान या रेलवे स्टेशन पर मास्क नहीं लगाया तो 500 रुपये का जुर्माना देना होगा. रेलवे ने इस दिशा निर्देश को अगले साल 16 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया है.