Indian Railways News: स्टेशनों के पुनर्विकास के लिए रेल यात्रियों को 10 रुपये से लेकर 35 रुपये तक अतिरिक्त किराये (Train Fare) का भुगतान करना पड़ सकता है. सूत्रों ने यह जानकारी दी. सूत्रों ने बताया कि यह प्रस्ताव का हिस्सा है जिसे रेलवे अंतिम रूप दे रहा है जिसे मंजूरी के लिए जल्द ही कैबिनेट के पास भेजा जाएगा. सूत्रों ने कहा कि उपयोग शुल्क श्रेणी के मुताबिक अलग-अलग होगा और यह दस रुपये से लेकर एसी प्रथम श्रेणी के यात्रियों के लिए 35 रुपये तक हो सकता है.Also Read - IRCTC/Indian Railways: भारतीय रेलवे ने इन ट्रेनों के रूट में किया बदलाव, देखें लिस्ट

रेलवे ने पहले स्पष्ट किया था कि उपयोग शुल्क केवल उन स्टेशनों के लिए लिया जाएगा जिनका पुनर्विकास किया जा रहा है और जहां यात्रियों की संख्या अधिक होती है. इसने कहा था कि देश भर में कुल सात हजार स्टेशनों में से करीब 700 से 1000 स्टेशन इस श्रेणी में आते हैं. उपयोग शुल्क विभिन्न हवाई अड्डों पर लिया जाता है और हर शहर में अलग-अलग दर होते हैं. Also Read - Indian Railways/IRCTC Updates: महाराष्ट्र भारी बारिश से बेहाल, 48 ट्रेनें रद्द; 33 का बदला गया रूट

रेल मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘उपयोग शुल्क आवश्यक रूप से एक छोटी राशि है जिसका इस्तेमाल रेलवे स्टेशनों पर सभी यात्रियों की सुविधाओं को बढ़ाने में किया जाता है.’ प्रवक्ता ने बताया कि मामला विचाराधीन है और उपयोग शुल्क की राशि के बारे में अभी अंतिम निर्णय नहीं किया गया है. उन्होंने कहा, ‘लेकिन एक चीज निश्चित है कि ये उपयोग शुल्क न्यूनतम होंगे और यात्रियों के लिए कठिन नहीं होंगे.’ Also Read - Indian Railways News: आरामदायक यात्रा के लिए भारतीय रेलवे ने शुरू किया विस्टाडोम कोच, जानिए- क्या है खासियत

रेलवे बोर्ड के सीईओ वीके यादव ने 17 सितंबर को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि रेलवे सभी सात हजार स्टेशनों पर उपयोग शुल्क नहीं लेगा, लेकिन ‘अगले पांच वर्ष तक यात्रियों की ज्यादा संख्या वाले बड़े स्टेशनों पर यह शुल्क लिया जाएगा.’ उन्होंने कहा था कि केंद्र स्टेशनों के लिए जल्द ही उपयोग शुल्क के बारे में अधिसूचना जारी करेगा.

(इनपुट: भाषा)