नई दिल्ली| रेल मंत्रालय ने आज कहा कि इसने ट्रेनों में किसी भी आरक्षित श्रेणी के यात्री के पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड के डिजीटल प्रारूप एम-आधार को भी स्वीकार करने का फैसला किया है. Also Read - IRCTC/Indian Railways: क्यों बढ़ी Platform Ticket की कीमत? रेलवे ने बताई यह वजह...

एम-आधार मोबाइल ऐप है, जिसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने पेश किया है जिस पर कोई व्यक्ति अपना आधार कार्ड डाउनलोड कर सकता है. Also Read - Indian Railway Holi Special Trains: होली के अवसर पर भारतीय रेलवे चलाएगी स्पेशल ट्रेनें, यहां देखें लिस्ट

हालांकि, इसे उसी मोबाइल नंबर के जरिए डाउनलोड किया जा सकता है जो आधार से जुड़ा हुआ है. मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि आधार दिखाने के लिए यात्रियों को ऐप खोलना होगा और अपना पासवर्ड डालना होगा. Also Read - Indian Railway Fare: भारतीय रेलवे ने इन ट्रेनों का बढ़ाया किराया, प्लैटफॉर्म टिकट 5 गुना तक हुआ महंगा

भारतीय रेल की ट्रेनों में किसी भी आरक्षित श्रेणी के डिब्बे में एम-आधार को यात्री की पहचान के सबूत के तौर पर स्वीकार किया जाएगा.