विख्यात हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ एस पद्मावती का 103 वर्ष की आयु में कोविड-19 से निधन हो गया. नेशनल हार्ट इंस्टीट्यूट (एनएचआई) ने यह जानकारी दी है. डॉ. पद्मामती को देश की पहली महिला कार्डियोलॉजिस्ट होने का गौरव प्राप्त था. Also Read - Covid-19 Vaccine Latest Updates: भारत में कब तक आएगी Coronavirus Vaccine? स्वास्थ्य मंत्री ने बताई समयसीमा

डॉक्टरों ने कहा कि उनका पिछले 11 दिन से एनएचआई में इलाज चल रहा था. एनएचआई ने एक बयान में कहा, ‘‘भारत की पहली महिला हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ एस पद्मावती का 29 अगस्त को कोरोना वायरस संक्रमण के कारण निधन हो गया.’ Also Read - क्या हवा के जरिये भी फैल सकता है Coronavirus? कितनी देर तक वायरस की रहती है मौजूदगी? नए रिसर्च में...

बयान के मुताबिक, ‘‘वह संक्रमित थीं और उन्हें सांस लेने में तकलीफ और बुखार की शिकायत के बाद भर्ती कराया गया था. उनके दोनों फेफड़ों में निमोनिया हो गया था. हालांकि, हृदयाघात के बाद उनका निधन हो गया.’ इसके मुताबिक, रविवार को पंजाबी बाग के कोविड-19 शवदाह गृह में उनकी अंत्येष्टि हुई. Also Read - India Covid-19 Updates: कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 60 लाख के पार पहुंचा, अब तक 95 हजार से ज्यादा की मौत