शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी सहित मामले के अन्य आरोपियों की न्यायिक हिरासत एक स्थानीय अदालत ने शनिवार को सात नवंबर तक के लिए बढ़ा दी। शीना की मां इंद्राणी, इंद्राणी के पूर्व पति संजीव खन्ना और इंद्राणी के पूर्व वाहन चालक श्यामवर राय को केंद्रीय जांच ब्यूरो सीबीआई ने दंडाधिकारी एन.बी. शिंदे के समक्ष पेश किया। शिंदे ने आरोपियों की न्यायिक हिरासत सीबीआई के आग्रह पर बढ़ा दी।

इंद्राणी के वकील गुंजन मंगला ने कहा कि उनके मुवक्किल ने स्वास्थ्य ठीक न होने के बावजूद जांचकर्ताओं के साथ सहयोग किया। उन्होंने इंद्राणी के उचित इलाज के लिए आग्रह किया। इस पर दंडाधिकारी ने सीबीआई को निर्देश दिया कि पहले संबंधित चिकित्सा अधिकारियों से एक फिटनेस रिपोर्ट ली जाए और उसके बाद ही जेल में इंद्राणी से पूछताछ की जाए। दंडाधिकारी ने मंगला से यह भी कहा कि वह आवाज के नमूने जांचने के लिए अपने मुवक्किल से सहमति ले। ये भी पढ़ें: रूसी विमान हादसा; आईएस ने किया विमान उड़ाने का दावा

सीबीआई के पास मौजूद कुछ टेलीफोन काल रिकॉर्ड में कथिततौर पर इंद्राणी की आवाज है, जिस जांच एजेंसी उनकी आवाज के नमूने से मिलान करना चाहती है। तीनों आरोपियों को अप्रैल 2012 में हुई शीना बोरा की हत्या के संबंध में अगस्त में गिरफ्तार किया गया था और उसके बाद से ही तीनों पुलिस हिरासत और न्यायिक हिरासत में हैं।