नई दिल्ली| रूस में इन दिनों इंटरनेशनल आर्मी गेम चल रहे हैं. ये एक ख़ास मुकाबला होता है जिसमें बड़े देशों की सेना के टैंक अपना प्रदर्शन करते हैं. इस इंटरनेशनल गेम में भारतीय सेना ने भी हिस्सा लिया है. इंडियन आर्मी इस प्रतियोगिता के दूसरे राउंड में पहुंच चुकी है. भारत का प्रदर्शन अभी तक अच्छा रहा है. पहले राउंड में भारत चौथे नंबर पर रहा. वहीं मेजबान देश रूस पहले नंबर पर रहा.

भारतीय सेना की टीम पिछले तीन वर्षों से स्पर्धा में हिस्सा ले रही है.सेना ने कहा, ‘‘इस वर्ष पहली बार टीम अपने टी 90 टैंकों के साथ हिस्सा लेगी जिन्हें जहाज द्वारा रूस भेजा गया है.’’ प्रतियोगिता के दौरान चीन के टैंक के साथ कुछ अटपटा हुआ. गेम के दौरान चीन का टैंक लड़खड़ा गया. टैंक के कई हिस्से अलग-अलग हो गए. तस्वीर में भी दिख रहा है कि टैंक का पहिया ही अलग हो गया. दूसरे राउंड में अगले तीन दिनों तक मुकाबला चलेगा, जिसमें टैंक के अलावा हथियार चलाने के भी गेम होंगे. भारतीय सेना का मुकाबला 10 अगस्त को है.

दूसरा राउंड

दूसरे राउंड में अगले तीन दिनों तक मुकाबला चलेगा, जिसमें टैंक के अलावा हथियार चलाने के भी गेम होंगे. दूसरे राउंड में 48 किलोमीटर की रिले रेस होगी, जिसमें एक ही टैंक होगा और उसके द्वारा ही करतब दिखाए जाएंगे. दूसरे राउंड में शीर्ष पर रहने वाली टॉप 4 टीमें अगले राउंड में जाएंगी. भारतीय सेना का मुकाबला 10 अगस्त को है.

19 देशों मे लिया हिस्सा

फाइनल रेस 12 अगस्त को होगी. इस साल इस प्रतियोगिता में कुल 19 देशों ने हिस्सा लिया था, जिसमें भारत, रूस, चीन, कजाकिस्तान जैसे देश शामिल हैं. अंतरराष्ट्रीय आर्मी गेम्स में 28 इवेंट होते हैं जिनका आयोजन रूस, बेलारूस, अजरबैजान, कजाखिस्तान और चीन में होता है.