नई दिल्ली: आज का दिन पूरे विश्व के लिए ख़ास है. 8 मार्च का दिन पूरी दुनिया में अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया जाता है. ये दिन महिलाओं के उन सभी अधिकारों के बारे में बात करता है जिन्हें महिलाओं ने अपने लिए हासिल किए हैं. 8 मार्च को अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस बनाने की शुरुआत 1908 में हुई थी. जब न्यूयॉर्क शहर में एक महिला मजदूर आंदोलन किया गया था. इतिहास के पन्नों में आज का यह दिन सुनहरे अक्षरों में रचा गया है. महिला दिवस के ख़ास मौके पर राजनीती की गलियों से इस दिन की महत्ता पर प्रकाश डाला गया है. जहां एक तरफ देश के राष्ट्रपति से लेकर उप-राष्ट्रपति  तक ने सोशल मीडिया के ज़रिए इस दिन की शुभकामनाएं दी वहीं दूसरी तरफ कई दिग्गज नेताओं ने भी इस मौके पर अपनी प्रतिक्रिया साझा की. Also Read - Covid-19 Fight: कोरोना से लड़ने के लिए केंद्र सरकार का एक और बड़ा कदम, गठित हुईं 11 टीमें

यहां देखिए कुछ ट्वीट्स: Also Read - सोशल डिस्टेंसिंग सीखें: कोरोना त्रासदी की गवाह है कैबिनेट मीटिंग की ये तस्वीर, PM मोदी, गृहमंत्री सब रहे दूर-दूर

आपको बता दें कि कई देशों ने इस दिन को अवकाश घोषित किया है. इसे अवकाश घोषित करने वाले देशों में अफगानिस्तान, अंगोला, बेलारूस, कजाकिस्तान आदि देश शामिल हैं. वहीं कुछ देशों में इस दिन केवल महिलाओं को छुट्टी दी जाती है जिसमें चीन, नेपाल, मकदूनिया और मेडागास्कार जैसे देश शामिल हैं.