नई दिल्ली. दुनिया में अगले 48 घंटे के दौरान इंटरनेट बंद होने की खबरों के बीच Russia Today ने एक रिपोर्ट जारी की है. इसके मुताबिक, इंटरनेट कॉर्पोरेशन ऑफ असाइन्ड नेम्स ऐंड नंबर्स क्रिप्टोग्राफिक को बदलकर मेंटनेंस का काम करेगी. ऐसे में मुख्य डोमेन सर्वर्स डाउन रहेंगे. Also Read - सोनू सूद ने स्वीकारा करमनटोला की नेहा का निमंत्रण, ट्वीट मे लिखा-चलो बिहार की शादी देखते हैं

हालांकि, रिपोर्ट ने दुनियाभर के लोगों को राहत देने का काम किया है. इसमें बताया गया है कि इसका असर सिर्फ 1% लोगों पर होगा. ऐसे में गूगल, मैप्स, फेसबुक और व्हाट्सऐप जैसे जरूरी कामों में कोई दिक्कत नहीं आएगी. हालांकि, कुछ नेटवर्क ऑपरेटर्स इसकी पहले से तैयारी नहीं किए हैं तो उनके कस्टूमर्स को भी दिक्कतों का सामना कर पड़ सकता है. दूसरी तरफ ICANN ने इस पर कहा है कि इसका असर न के बराबर पड़ेगा. Also Read - Viral Post: मोहब्बत और गलतफहमी में क्या फर्क है? IPS ने दिया जवाब- जैसे ही थाने से फोन...

ICANN ने ये कहा
कम्यूनिकेशन रेग्यूलेटरी ऑथोरिटी ने बताया कि ये मरम्मत इंटरनेट के डोमेन नेम सिस्टम को और सुरक्षित बनाएगी जिससे यूजर्स को एक बेहतर प्लेटफॉर्म मिलेगा. तकनीकी भाषा में कहा जाए तो इस दौरान इंटरनेट कॉर्पोरेशन ऑफ असाइन्ड नेम्स एंड नंबर्स (ICANN) मेंटेनेंस वर्क जारी रहेगा. अगर ऐसा हुआ तो ब्राउजिंग करते वक्त किसी इंटरनेट स्लो या सेवा ठप होने का समस्या तयशुदा समय से थोड़ी ज्यादा भी बढ़ सकती है. Also Read - Twitter Fleets Feature launched: Twitter में आया Instagram जैसा नया फीचर, जानें कैसे करेगा काम

बंद होने की संभावना कम
हालांकि एक ही समय में पूरी दुनिया की इंटरनेट सेवा बंद होने की संभावना कम है. इसे छोटे-छोटे slots में बंद किए जाने की उम्मीद ज्यादा है ताकि लोग अपना काम ठीक तरह से कर पाएं.