नई दिल्ली: स्वघोषित धर्मगुरु दाती महाराज और उसके चेलों पर दर्ज रेप का केस दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया है. एफआईआर दर्ज होने के बाद दाती महाराज फरार है. बता दें कि सोमवार को दिल्ली के फतेहपुर बेरी थाने में युवती ने सोमवार को दाती महाराज के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. 25 साल की एक युवती ने स्वयंभू बाबा और उसके चेलों पर उसके साथ बार-बार बलात्कार करने का आरोप लगाया है. दक्षिणी युवती ने पुलिस को बताया कि वह करीब एक दशक से महाराज की अनुयायी थी. लेकिन दाती महाराज और उनके चेलों के द्वारा बार- बार रेप किए जाने के बाद वह अपने घर राजस्थान लौट गई थी.

दाती महाराज पर रेप के आरोप में FIR, कई महिलाओं के यौन शोषण का दावा

महिला शिष्या जबरन भेजती थी दाती के कमरे में
युवती ने आरोप लगाया है कि दाती महाराज की एक अन्य महिला अनुयायी उसे महाराज के कमरे में जबरन भेजती थी. मना करने पर धमकाती थी कि वह सभी से कहेगी कि पीड़िता अन्य चेलों के साथ भी यौन संबंध बनाती है. वह करीब दो साल पहले आश्रम से भाग गई थी और लंबे समय से अवसाद में थी. अवसाद से उबर कर उसने अपने माता- पिता को पूरी बात बतायी और उनके साथ पुलिस को शिकायत दी है.

स्वाति मालीवाल ने युवती की जान को बताया खतरा
दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पीड़िता से भेंट कर कहा कि उसे पुलिस सुरक्षा मिलनी चाहिए. मालीवाल ने ट्वीट किया, ”दाती महाराज द्वारा कथित रूप से बलात्कार की शिकार हुई युवती से मिली. लड़की की कहानी बेहद डरावनी है. ऐसा लगता है कि वह भीषण प्रताड़ना से गुजरी है. उसकी जान को खतरा है. दिल्ली पुलिस को उसे तुरंत सुरक्षा प्रदान करने के लिए कहा है. दाती महाराज को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए.”
दाती महाराज और चेलों ने युवती से किया बार-बार रेप
स्वयंभू बाबा दाती महाराज के खिलाफ उनकी एक शिष्या ने दुष्कर्म का एक मामला दर्ज कराया है. शिष्या का आरोप है कि दो साल पहले दाती महाराजा और उनके सहयोगियों ने उसके साथ दुष्कर्म किया था. पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) रोमिल बनिया ने सोमवार को कहा कि मामला रविवार को आईपीसी की धारा 376, 377, 354 और 34 के तहत पंजीकृत किया गया है. उन्होंने कहा कि महिला द्वारा दिल्ली स्थित श्री शनिधाम ट्रस्ट के संस्थापक व उनके सहयोगियों के खिलाफ आरोप लगाए जाने के कुछ दिनों बाद मामला दर्ज किया गया है. बनिया ने कहा, “आरोपियों से मामले के संबंध में जल्द पूछताछ की जाएगी और उसी के अनुसार आगे की कार्रवाई बढ़ेगी.” (इनपुट एजेंसी)