कोलकाता: पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं के रोष प्रदर्शन के बीच मनीष शुक्ला हत्याकांड की जांच को आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) को सौंप दी गई. यह जानकारी पुलिस सूत्रों ने दी. सीआईडी अधिकारियों की एक टीम ने घटनास्थल का दौरा किया. गौरतलब है कि बीटी रोड पर रविवार रात मोटरसाइकिल सवार हमलावरों ने मनीष शुक्ला की गोली मारकर हत्या कर दी थी. यह घटना पुलिस स्टेशन से कुछ मीटर की दूरी पर हुई. पुलिस ने कहा कि शुक्ला को पीठ और सीने में कई बार गोली मारी गई. Also Read - राहुल गांधी की नाराजगी को भी कमलनाथ ने नहीं दी 'तवज्जो', 'आइटम' वाले बयान पर माफी मांगने से इनकार

इस बीच पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं ने सोमवार को उत्तर 24-परगना जिले के विभिन्न हिस्सों में पार्टी नेता की हत्या के विरोध में प्रदर्शन किया और रोड जाम किया. गुस्साए पार्टी कार्यकर्ताओं ने बैरकपुर-बारासात रोड और कल्याणी एक्सप्रेसवे जैसे प्रमुख सड़क मार्गो को अवरुद्ध करने के लिए टायर जलाए. Also Read - कमलनाथ के 'आइटम' वाले बयान को राहुल गांधी ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण, कहा- 'मुझे इस तरह की भाषा पसंद नहीं'

पार्टी के नवनियुक्त राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के नेतृत्व में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का एक दल शोक संतप्त परिवार से मिलने टीटागढ़ पहुंचा. विजयवर्गीय ने मीडिया से कहा, “यह बेहद शर्मनाक है, सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने अब हिंसा की राजनीति शुरू कर दी है. हम इस मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हैं.” Also Read - पश्चिम बंगाल में बोले जेपी नड्डा, बहुत जल्द लागू होगा नागरिकता संशोधन कानून