Irctc Indian Railways: भारतीय रेलवे (Indian Railways) इन दिनों नई-नई कीर्तिमान स्थापित करने में लगा हुआ है. भारतीय रेलवे अब अपना नेटवर्क और भी बढ़ाना चाहता है. ऐसे में रेलवे अब उत्तर पूर्व (North-East Railway) को रेलवे नेटवर्क से जोड़ने की कोशिश में लगा हुआ है. इस बाबत बैठकें भी अब शुरू हो चुकी है. यात्रियों को बेहतर सुविधा पहुंचाने के लिए रेलवे अपना रेल नेटवर्क बढ़ाने की कोशिश कर रहा है. Also Read - RRB NTPC के 1.4 लाख वैकेंसी के लिए 2.4 करोड़ लोगों ने किया आवेदन, जानें परीक्षा आयोजित करने को लेकर RRB की क्या है तैयारी   

भारतीय रेलवे की मानें तो 2023 तक नार्थ ईस्ट के सभी राज्यों की राजधानियों को रेलवे से जोड़ दिया जाएगा. इस बाबत रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद यादव ने कहा कि असम, त्रिपुरा और अरुणाचल प्रदेश की राजधानियों को पहले ही रेलवे से जोड़ा जा चुका है. अब बाकी बचे राज्यों की राजधानियों को रेलवे से जोड़ा जाएगा. रेलवे ने इस ओर कदम बढ़ा दिए हैं और रेलवे 2023 तक इस काम को सफलतापूर्वक पूरा करेगी. Also Read - Indian Railway Bags on wheels Service: ट्रेन का सफर करना हुआ आसान, क्योंकि घर से स्टेशन तक लगेज पहुंचाएगी रेलवे

उन्होंने कहा कि मार्च 2022 तक मेघालय, मार्च 2023 तक मिजोरम और नागालैंड और 2023 तक सिक्किम को रेलवे से कनेक्ट कर दिया जाएगा. गौरतलब है कि फिलहाल जम्मू-कश्मीर में रेलवे कनेक्टीविटी के विस्तार पर भारतीय रेलवे की नजर है. कटरा से बिनहाल सेक्शन का काम 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा. भारतीय रेलवे ऐसा पहली बार होगा जब एक केबल रेल ब्रिज बनाएगा. यह वैष्णों माता के दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं के मद्देनजप व उनकी सुविधा के लिए ऐसा किया जा रहा है.