नई दिल्ली: भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने बड़ा फैसला लेते हुए सभी नियमित मेल, एक्सप्रेस और यात्री ट्रेन सेवाओं के साथ उपनगरीय ट्रेनें 12 अगस्त तक रद्द कर दी हैं. इसके साथ ही बुक की गईं सभी टिकट भी रद्द कर दी गई हैं. देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए यह फैसला किया गया है. इससे पहले 30 जून तक के लिए सभी ट्रेन रद्द करने का फैसला लिया गया था, इसे अब आगे बढ़ा दिया गया है.Also Read - Gujarat Night Curfew News: गुजरात के 27 शहरों में Night Curfew चार फरवरी तक बढ़ाया गया, ये रहेंगी पाबंदियां

– इसके साथ ही रेलवे ने फैसला किया है कि इस दौरान सभी स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी. Also Read - Delhi Corona Update: दिल्ली में कोरोना के 4044 नए मामले, 24 घंटे में 25 लोगों की मौत

– इसके तहत 12 मई से राजधानी के मार्ग पर चल रही 12 जोड़ी ट्रेनें तथा एक जून से चल रही 100 जोड़ी ट्रेनें जारी रहेंगी. Also Read - देश के 400 जिलों में हर हफ्ते 10 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा कोरोना वायरस, सरकार ने बताए हालात

– रेलवे बोर्ड के आदेश में कहा गया है, ‘‘एक जुलाई से 12 अगस्त के बीच यात्रा के लिए सभी नियमित ट्रेनों की बुक की गई टिकट रद्द की गई. सारी राशि लौटा दी जाएगी.’’

– रेलवे द्वारा टिकट बुक करने वालों को टिकट कैंसिल होने का पूरा 100 प्रतिशत रिफंड मिलेगा. यानी कोई पैसा नहीं कटेगा.

– इससे पहले रेलवे ने 30 जून तक सभी ट्रेनों को रद्द किया था. कोरोना वायरस के चलते एक बार फिर ट्रेनें रद्द करने का फैसला किया गया है.

– रेलवे के अनुसार जरूरी सेवाओं में लगे कर्मियों की आवाजाही के लिए हाल में मुंबई में सीमित तौर पर शुरू की गई विशेष उपनगरीय सेवा भी जारी रहेगी.

– 24 मार्च से लॉकडाउन लगने के बाद से ही कोई भी सामान्य ट्रेन नहीं चल रही हैं.

– कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए फिलहाल इसमें राहत मिलते हुए भी नहीं दिख रही है.