नई दिल्ली: भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने बड़ा फैसला लेते हुए सभी नियमित मेल, एक्सप्रेस और यात्री ट्रेन सेवाओं के साथ उपनगरीय ट्रेनें 12 अगस्त तक रद्द कर दी हैं. इसके साथ ही बुक की गईं सभी टिकट भी रद्द कर दी गई हैं. देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए यह फैसला किया गया है. इससे पहले 30 जून तक के लिए सभी ट्रेन रद्द करने का फैसला लिया गया था, इसे अब आगे बढ़ा दिया गया है. Also Read - कलाकार है शाहरुख खान की पत्नी गौरी, विश्वास नहीं होता तो देखिए ये वीडियो

– इसके साथ ही रेलवे ने फैसला किया है कि इस दौरान सभी स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी. Also Read - चार महीने बाद अबु धाबी से मुंबई लौटीं मौनी रॉय, फैंस बोले- 'मास्क नाक पर डालो न...'

– इसके तहत 12 मई से राजधानी के मार्ग पर चल रही 12 जोड़ी ट्रेनें तथा एक जून से चल रही 100 जोड़ी ट्रेनें जारी रहेंगी. Also Read - कर्नाटक में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 40 हजार पार, 73 और मरीजों की मौत

– रेलवे बोर्ड के आदेश में कहा गया है, ‘‘एक जुलाई से 12 अगस्त के बीच यात्रा के लिए सभी नियमित ट्रेनों की बुक की गई टिकट रद्द की गई. सारी राशि लौटा दी जाएगी.’’

– रेलवे द्वारा टिकट बुक करने वालों को टिकट कैंसिल होने का पूरा 100 प्रतिशत रिफंड मिलेगा. यानी कोई पैसा नहीं कटेगा.

– इससे पहले रेलवे ने 30 जून तक सभी ट्रेनों को रद्द किया था. कोरोना वायरस के चलते एक बार फिर ट्रेनें रद्द करने का फैसला किया गया है.

– रेलवे के अनुसार जरूरी सेवाओं में लगे कर्मियों की आवाजाही के लिए हाल में मुंबई में सीमित तौर पर शुरू की गई विशेष उपनगरीय सेवा भी जारी रहेगी.

– 24 मार्च से लॉकडाउन लगने के बाद से ही कोई भी सामान्य ट्रेन नहीं चल रही हैं.

– कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए फिलहाल इसमें राहत मिलते हुए भी नहीं दिख रही है.