नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के मद्देनजर लॉकडाउन लगाया गया है. ऐसे में सभी राज्यों में फंसे मजदूर अपने घर जाने का इंतजार कर रहे हैं. इस बीच केंद्र सरकार की तरफ से कई स्पेशल ट्रेनों के जरिए प्रवासी मजदूरों व छात्रों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए कई तरह की व्यवस्थाएं की गई है. इसी बीच आज देश के कई हिस्सों से श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के जरिए लोगों को उनके घर पहुंचाया गया है. Also Read - Covid-19 in Bihar Update: प्रवासियों ने बिहार में तेजी से बढ़ाई संक्रमितों की संख्या, 163 नए मामले

बिहार में इस दौरान मुज्जफरपुर रेलवे स्टेशन पर काफी भीड़ देखने को मिली. यहां एक स्पेशल ट्रेन कोटा से 1318 छात्रों को लेकर स्टेशन पहुंची. इस दौरान यहां छात्रों के परिजनों की भीड़ इकट्ठा हो गई. वहीं दूसरी तरफ महाराष्ट्र के भिवंडी से 1200 प्रवासी मजदूरों को ट्रेन के जरिए पटना पहुंचाया गया. Also Read - साइकिल वाली ज्योति को सुपर 30 के आनंद कुमार का तोहफा, कहा- IIT परीक्षा की तैयारी करवाना सौभाग्य की बात

केरल से एक स्पेशल ट्रेन बिहार के लिए रवाना किया गया. इस ट्रेन में 1189 प्रवासी मजदूर थे. ये सभी कल बिहार पहुंचे. वहीं आंध्र प्रदेश के नेल्लोर स्थित सैयद नायाब–रसूल दरगाह गए 500 लोग यहां लॉकडाउन के कारण फंसे हुए हैं. इन्हें भी इनके गृह राज्य तेलंगाना भेजे जाने की कोशिश जारी है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि तेलंगाना के 218 लोगों के कोरोना संक्रमण की जांच के बाद उन्हें 10 आरटीसी बसों से भेजा गया है. बाकी बचे अन्य लोगों भी जल्द ही वापिस उनके गृह राज्य भेजा जाएगा.