IRCTC Shramik Trains Latest update News: कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में लॉकडाउन की वजह से फंसे प्रवासी मजदूरों को अपने घर पहुंचान के लिए भारतीय रेलवे एक मई से लगातार श्रमिक ट्रेन चला रहा है. अब भारतीय रेलवे ने राजधानी दिल्ली से सभी तरह की श्रमिक ट्रेन को बंद करने का फैसला लिया है. रेल मंत्रालय की तरफ से जानकारी देते हुए एक अधिकारी ने बताया कि दिल्ली सरकार की तरफ से अब श्रमिक ट्रेन की कोई मांग नहीं है इसलिए यह कदम उठाया गया है.Also Read - Indian Railways News: ऑनलाइन बुक किए गए टिकट पर कैसे बदलें बोर्डिंग स्टेशन का नाम, जानें- क्या है प्रक्रिया?

पीटीआई के मुताबिक, रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन रोकने के फैसले की पुष्टि की है. हालांकि अधिकारी ने यह भी कहा है कि अगर दिल्ली सरकार की ओर से फिर से श्रमिक ट्रेन की मांग की जाएगी तो भारतीय रेलवे फिर से यहां से ट्रेनों को चलाएगा. आपको बता दें कि भारतीय रेलवे एक मई से अब तक 4155 श्रमिक ट्रेन चला चुकी है. Also Read - Dudhsagar Waterfall: भारी बारिश के कारण दूधसागर वाटरफॉल पर रोकनी पड़ी ट्रेन, रेल मंत्रालय ने शेयर किया शानदार वीडियो

जानकारी के अनुसार दिल्ली से आखिरी श्रमिक ट्रेन 31 मई को चलाई गई थी. यह श्रमिक ट्रेन आनंद विहार से बिहार के पूर्णिया, भागलपुर के लिए और हजरत निजामुद्दीन स्टेशन से महोबा के लिए चलाई गई थी. जून से राजधानी दिल्ली से देश के किसी भी हिस्से के लिए श्रमिक ट्रेन नहीं चलाई गई है. इसे देखते हुए भारतीय रेलवे ने दिल्ली से श्रमिक ट्रेन बंद करने का फैसला लिया है. एक मई से दिल्ली से देश के  विभिन्न रेलवे स्टेशनों तक 242 ट्रेन चलाई गई थीं. इनमें 101 ट्रेन उत्तर प्रदेश और 111 ट्रेन बिहार के लिए रवाना हुई थीं. Also Read - Train Accident Video: चलती ट्रेन में बुजुर्ग को चढ़ाने की कोशिश कर रहा था शख्स, दोनों चपेट में आए | वीडियो Viral

भारतीय रेलवे ने एक आंकड़ा पेश करते हुए कहा कि जब से श्रमिक ट्रेन चलाई गईं कई राज्यों ने इन्हें कैंसिल भी कराया और इनमें महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, और उत्तर प्रदेश सबसे आगे रहे.