Indian Railways Ticket Booking New Rules: यात्रियों को राहत देने के लिए भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने टिकटों के आरक्षण को लेकर बड़ा बदलाव किया है. रेलवे का यह नया बदलाव आज से शुरू हो जाएगा. अब रेलवे इस नए कदम से किसी भी स्‍टेशन से ट्रेन के छूटने से 5 मिनट पहले तक कंफर्म बर्थ उपलब्‍ध हो सकेगा. खास बात यह है कि रेलवे स्‍टेशन के टिकट काउंटर यानि ऑफलाइन और ऑनलाइन तरीके से ट्रेन का कंफर्म टिकट लिया जा सकता है. रेलवे की इस सुविधा से ऐसे लोगों को विशेष मदद मिलेगी जिन्‍हें किसी विशेष आपात स्थितियों में ट्रेन से यात्रा करना पड़ती है. Also Read - Indian Railway Bags on wheels Service: ट्रेन का सफर करना हुआ आसान, क्योंकि घर से स्टेशन तक लगेज पहुंचाएगी रेलवे

खाली रहने पर हर ट्रेन में 120 से अधिक यात्र‍ियों को यह सुविधा मिल सकती है. रेलवे आज से रिजर्वेशन के दो चार्ट बनाएगा. पहला चार्ट स्‍टेशन से ट्रेन के छूटने की टाइमिंग से आधा घंटे पहले बनाया जाएगा, जबकि दूसरा चार्ट पहले चार्ट की अवधि से ट्रेन छूटने के 5 मिनट पहले तक शेष बची हुई सीटों के लिए टिकट दिया जाएगा. Also Read - RRB Level-1 Recruitment 2020: रेलवे ने अपरेंटिस के लिए 20% वैकेंसी किया आरक्षित, जानिए क्या है पूरा मामला

बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण की महामारी के चलते लॉकडानउन पीरियड से पहले ट्रेन की चलने से 4 घंटे पहले फर्स्‍ट चार्ट बनाया जाता था, दूसरा चार्ट दो घंटे पहले बनाया जाता था. पहले इस सुविधा के लिए टिकट रेलवे के काउंटर से ही मिलते थे, लेकिन अब ऑनलाइन भी बुक किए जा सकेंगे. कोरोना के लॉकडाउन के बाद जब ट्रेनें चलाना शुरू हुई तो रेलवे ने यह बदलाव किया है. Also Read - IRCTC/Indian Railways: त्योहारी सीजन में बढ़ेगा रेल किराया? जानें रेलवे ने बयान जारी कर क्या कहा...

रेलवे ने पैसेंजर्स की सुविधा के मद्देजर कम से कम 5 मिनट पहले और अधिकतम आधे घंटे पहले तक ट्रेनों के दो चार्ट बनाए जाने का सिस्‍टम शुरू करने का निर्णय लिया था. इससे अब ट्रेन में टिकट चेकिंग करने वाले कर्मचारियों को टिकट की जांच करने की जरूरत नहीं होगी.

बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण को बढ़ने के रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) के कारण देशभर में 25 मार्च से सभी यात्री ट्रेनों को निलंबित कर दिया गया था. हालांकि 1 मई से प्रवासियों को उनके गृह राज्य पहुंचाने के लिए श्रमिक ट्रेनों की शुरुआत की गई. इसके बाद भारतीय रेलवे चरणबद्ध तरीके से ट्रेनों की शुरुआत कर रही है.

(इनपुट: एजेंसी)