नई दिल्ली: रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने शनिवार को कहा कि IRCTC की तीसरी निजी रेलगाड़ी इंदौर और वाराणसी के बीच चलेगी. उन्होंने बताया कि रात में सफर तय करने वाली इस रेलगाड़ी के डिब्बे हमसफर एक्सप्रेस की तरह होंगे. उन्होंने उम्मीद जताई कि निजी कंपनियां ट्रेनें चलाने के लिए शीघ्र ही आगे आयेंगी. उन्होंने कहा कि आल्स्टम ट्रांसपोर्ट, बॉम्बार्डियर,सीमैंस एजी, मैक्वायर जैसी वैश्विक कंपनियों समेत दो दर्जन से अधिक कंपनियों ने इस प्रस्ताव में रूचि दिखाई है.

यादव ने कहा कि टाटा उन कंपनियों में शामिल हैं जिन्होंने निजी ट्रेनें चलाने में रूचि दिखाई है. पिछले कुछ महीनों में ‘भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम’ (आईआरसीटीसी) ने दो मार्गों पर निजी रेलगाड़ियों का संचालन शुरू किया है. ये मार्ग दिल्ली-लखनऊ और अहमदाबाद-मुंबई हैं. यादव ने कहा कि तीसरी निजी रेलगाड़ी इंदौर-वाराणसी मार्ग पर चलेगी. अधिकारियों ने बताया कि यह रेलगाड़ी सप्ताह में तीन दिन चलेगी. यह दो दिन लखनऊ होते हुए और एक दिन इलाहाबाद होते हुए चलेगी.

आईआरसीटीसी द्वारा संचालित इस तरह की यह पहली रेलगाड़ी होगी जिसमें चेयर कार नहीं होगी, बल्कि स्लीपर कोच होंगे. इस रेलगाड़ी के 20 फरवरी के आसपास शुरू होने की संभावना है. यादव ने कहा कि इस तरह की भी योजना है कि 150 रेलगाड़ियों का संचालन निजी कंपनियों द्वारा किया जाये. इसके तौर तरीकों पर काम किया जा रहा है और तब तक इनका संचालन आईआरसीटीसी करता रहेगा.