नई दिल्ली: युवा लेखक कुलदीप राघव का नया उपन्यास ‘इश्क़ मुबारक’ (Ishq Mubarak) छाया हुआ है. लॉन्च के दिन ही किताब अमेज़न पर इतनी तेजी से ऑर्डर की गई कि ये बेस्ट सेलर की सूची में सबसे पहले नंबर पर काबिज हो गई. रेडग्रैब पब्लिकेशन (Redgrab Publication) से प्रकाशित ‘इश्क़ मुबारक’ का विमोचन वर्ल्ड बुक फेयर 2020 (World Book Fair 2020) में किया गया. विमोचन वरिष्ठ पत्रकार प्रताप सोमवंशी और संयम श्रीवास्तव ने किया. विमोचन 6 जनवरी को किया, लेकिन इससे पहले ही एक जनवरी को ये किताब अमेज़न बेस्ट सेलर की श्रेणी में आ चुकी थी. ‘इश्क़ मुबारक’ कुलदीप राघव (Kuldeep Raghav) का दूसरा नॉवेल है. कुलदीप का पहला नॉवेल ‘आई लव यू’ भी खासी चर्चा में रहा था. ‘आई लव यू’ की तारीफ़ बॉलीवुड से जुड़े कुछ फिल्मकारों ने भी की थी.

कुछ ऐसी है कहानी: कुलदीप बताते हैं कि इश्‍क़ मुबारक, मेरठ के करीब एक छोटे से गाँव के रहने वाले और गरीबी में पले-बढ़े मीर की ज़िन्दगी के दास्तान है। बचपन में पिता का निधन और फ‍िर जवानी में माँ का साया उठ जाने के बाद, तमाम पारिवारिक, सामाजिक और आर्थिक समस्‍याओं को पार कर मीर रॉकस्‍टार बनने के सपने को पूरा करता है। इस सफ़र में ज़िन्दगी कई मोड़ लेती है। ये मोड़ पहले तो सुखद अहसास कराते हैं और बाद में ऐसी स्थिति पैदा करते हैं जब वह ख़ुद को शून्‍य पर खड़ा महसूस करता है। इश्‍क़ मुबारक, एक सहज प्रेमकथा होते हुए भी आज के समाज को सीख देने वाला उपन्‍यास है। आज समाज में चाहे या अनचाहे जो कुछ हो रहा है, इश्‍क़ मुबारक उसे उजागर कर एक सबक़ देने का काम करती है। सब कुछ होते हुए भी ‘कुछ और’ पाने का इरादा किस तरह तीन जिंदगियों को बर्बाद करता है… इश्‍क़ मुबारक उपन्यास आपको उसी नतीजे को दिखाएगा। कुलदीप बताते हैं कि ‘आईलवयू’ और ‘इश्क़ मुबारक’ जल्द सुनहरे पर्दे पर नज़र आएंगी।

100 इन्सपायरिंग ऑथर्स की लिस्ट में शामिल रह चुके हैं कुलदीप: मूल रूप से खुर्जा निवासी 26 साल के कुलदीप राघव लेखक होने के साथ-साथ फिल्म पत्रकार भी हैं. कुलदीप बताते हैं कि किताब युवाओं ने खासी पसंद की है. यह उनके लिए सम्मान की बात है. कुलदीप को कोलकाता की संस्था ‘द इंडियन आवाज’ की ओर से 100 इन्सपायरिंग ऑथर्स की लिस्ट में शामिल किया जा चुका है. कुलदीप को शिवकुमार गोयल पत्रकारिता पुरस्कार और मदन मोहन मालवीय पत्रकारिता पुरस्कार मिल चुका है. कुलदीप ने इससे पहले चर्चा में रही ‘आई लव यू’ और ‘नरेंद्र मोदी: एक शोध’ लिखी थी.