Israel Embassy Blast in Delhi: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में इजरायली दूतावास के पास हुए बम धमाके की गहनता से जांच की जा रही है. आईबी (IB), एनआईए (NIA) भी इस मामले की जांच कर रही हैं. वहीं, दिल्ली पुलिस (Delhi Police) को मौके से एक ऐसा पत्र मिला है, जिसमें धमाके को बस एक ट्रेलर बताया गया है. इस पत्र में ईरान (Iran Connection with Israel Embassy Blast) का ज़िक्र है. इसमें लिखा है कि ये धमाका बस एक ट्रेलर है. खत में ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी और ईरान के वरिष्ठ परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फाखरीजादे का उल्लेख ‘शहीद’ के रूप में किया गया है. बीते साल इन दोनों की ही हत्या कर दी गई थी.
 
न्यूज़ एजेंसी आईएएनएस की खबर के अनुसार, दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल को एक सीसीटीवी (CCTV) फुटेज मिला है, जिसमें दो लोगों को कार से बाहर निकलकर दूतावास (Israel Embassy) की ओर आगे बढ़ते देखा जा रहा है. इजरायल से जांचकर्ताओं की एक टीम शनिवार यथाशीघ्र दिल्ली पहुंच सकते हैं, जिनके द्वारा इस ब्लास्ट के संदर्भ में भारतीय एजेंसियों की सहायता की जाएगी. इस घटना में दिल्ली के लुटियंस हाई सिक्योरिटी जोन में कुछ कारें क्षतिग्रस्त हुई हैं.

ये भी बताया जा रहा है कि जिस गाड़ी से इन दो लोगों को दूतावास के पास छोड़ा गया था, उसके चालक का पता लगा लिया गया है और इन दो संदिग्धों के स्कैच बनाए जा रहे हैं. ब्लास्ट में इनकी संलिप्तता को सुनिश्चित करने के लिए जांच शुरू कर दी गई है. मौके से एक खत भी बरामद हुआ है, जिसमें लिखा हुआ है कि यह धमाका बस एक ‘ट्रेलर’ है. सूत्रों ने बताया कि खत में ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी और ईरान के वरिष्ठ परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फाखरीजादे का उल्लेख ‘शहीद’ के रूप में किया गया है. बीते साल इन दोनों की ही हत्या कर दी गई है.Also Read - मुस्लिम महिलाओं के प्रति अश्लील टिप्पणी का केस: Club House पर बिसमिल्लाह नाम से प्रोफाइल बनाए था आरोपी, पकड़ा गया

शुक्रवार को यह धमाका विजय चौक से 1.4 किलोमीटर की दूरी पर हुआ, जहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath kovind), प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सहित सरकार के अन्य वरिष्ठ सदस्य बीटिंग रिट्रीट समारोह के लिए इकट्ठे हुए थे. राजधानी में एयरपोर्ट सहित और कई महत्वपूर्ण स्थानों पर चौकसी बढ़ा दी गई है.

Also Read - Bulli Bai App Case: बुल्ली बाई एप के आरोपी सु्ल्ली डील एप में भी थे शामिल, मुंबई पुलिस ने कोर्ट को दी ये जानकारी

Also Read - गाजीपुर में IED मिलने का मामला: टेलीग्राम पर अलकायदा से जुड़े संगठन ने ली जिम्मेदारी, दिल्ली पुलिस जांच में जुटी