Israel Embassy Blast: हाई प्रोफाइल वाले दिल्ली के क्षेत्र में इजराइल दूतावास के पास कम तीव्रता वाले आईईडी विस्फोट के एक दिन बाद, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) संभवत: मामले में केस दर्ज कर सकती है. एनआईए ने भी विस्फोट स्थल का निरीक्षण किया था. सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी.Also Read - Delhi Police Jobs: दिल्ली पुलिस ने हेड कॉन्स्टेबल के 800 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, मिलेगी मोटी सैलरी

एनआईए अधिकारियों के एक दल ने शुक्रवार शाम विस्फोट स्थल का दौरा किया था और साइट से सामग्री एकत्र की थी. मार्ग और विस्फोट में शामिल व्यक्तियों की पहचान करने के लिए एनआईए अधिकारियों की टीम ने क्षेत्र की पूरी मैपिंग भी की. सूत्रों के मुताबिक, एनआईए ने दिल्ली पुलिस के अधिकारियों और बम दस्ते के साथ भी बातचीत की. सूत्र ने कहा कि एजेंसी जल्द ही विस्फोट की घटना पर मामला दर्ज कर सकती है. Also Read - दिल्ली पुलिस का मजेदार ट्वीट-'कमरा खाली है, जल्द-से-जल्द स्पेस बुक करा लें', हकीकत जानकर हो जाएंगे हैरान

दिल्ली पुलिस के अनुसार, औरंगजेब रोड पर इजराइल दूतावास के पास सुबह 5.05 बजे के आसपास कम तीव्रता का बम विस्फोट हुआ. विस्फोट में तीन वाहनों की खिड़की के शीशे क्षतिग्रस्त हो गए. विस्फोट में कोई घायल नहीं हुआ था. सूत्र ने कहा कि एनआईए विस्फोट में प्रयुक्त बम के बारे में भी पता लगाने की कोशिश करेगी, क्योंकि उसे विस्फोट स्थल से अमोनिया नाइट्रेट और बॉल बेयरिंग कण मिले हैं. Also Read - दिल्ली में आतंकी हमले को लेकर सुरक्षा एजेंसियों ने जारी किया अलर्ट, यासीन मलिक के करीबी बना रहे योजना!

बैटरी के अंश बरामद
रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने इजरायली दूतावास के पास से बैटरी के अंश बरामद किए हैं. इससे स्पष्ट हो रहा है कि धमाके में टाइमर का इस्तेमाल किया गया था.

‘कैब’ वालों से पूछताछ शुरू
समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से लिखा कि दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच उन लोगों की डिटेल की जांच कर रही है, जो एपीजे अब्दुल कलाम रोड से कल दोपहर 3 बजे से 6 बजे के बीच ओला और उबेर सहित अन्य कैब के जरिए वहां से गुजरे. दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम एक टीम ब्लास्ट वाले रोड अब्दुल कलाम रोड पर कितने लोगों का पिकअप एंड ड्रॉप हुआ है, उसका पता लगा रही है, और वहीं इसके लिए टेक्सी सर्विस प्रोवाइड करने वाली कंपनी से डाटा मांगा जा रहा है जिनकी टैक्सी इस रोड पर आई हो. वहीं रोड और उसके आस-पास के रोड पर पिछले 3 दिन की फुटेज को निकाला जा रहा है.

भारत में रह रहे ईरानी नागरिकों से पूछताछ
समाचार एजेंसी एएनआई ने दिल्ली पुलिस के हवाले से बताया कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल कल इजराइल दूतावास के पास कल हुए विस्फोट के सिलसिले में राष्ट्रीय राजधानी में रह रहे कुछ ईरानियों से पूछताछ कर रही है. जिन विदेशी नागरिकों से पूछताछ की जा रही है, उनमें वे भी शामिल हैं, जिनके वीजा समाप्त हो चुके हैं.

क्या बोले इजराइल के राजदूत रॉन मलका?
इससे पहले भारत में इजराइल के राजदूत रॉन मलका ने कहा कि उनके पास यह मानने के लिए पर्याप्त कारण हैं कि यह एक आतंकवादी हमला था लेकिन वे इस हमले को लेकर हैरान नहीं हैं क्योंकि पिछले कुछ सप्ताह से सतर्कता काफी बढ़ाई हुई थी.

उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘सभी पहलुओं को ध्यान में रख कर जांच की जा रही है, जिसमें हमारे राजनयिकों पर यहां 2012 में हुए हमले से तथा दुनियाभर में हो रहे घटनाक्रम से कोई संबंध होने की संभावना शामिल हैं.’’

जब उनसे पूछा गया कि क्या हमले का उद्देश्य विभिन्न अरब देशों के साथ इजराइल के शांति प्रयासों को पटरी से उतारना था, उन्होंने कहा, ‘‘ ये हमले क्षेत्र (पश्चिम एशिया) में विध्वंस करने की साजिश है, जो हमें भयभीत नहीं कर सकते या रोक नहीं सकते , हमारे शांति प्रयास जारी रहेंगे.’’

उन्होंने कहा कि इजराइल के अधिकारी हमले की जांच कर रहे भारतीय अधिकारियों को सभी सहायता, जानकारी प्रदान कर रहे हैं. उल्लेखनीय है कि दिल्ली में इजराइली दूतावास के निकट शुक्रवार शाम मामूली आईईडी विस्फोट हुआ था. इस विस्फोट में कुछ कारें क्षतिग्रस्त हो गई थीं.