‘पीपुल्स एलायंस’ की बैठक में बोले फारूक अब्दुल्ला, 'हम भाजपा विरोधी हैं, देश विरोधी नहीं'

फारूक अब्दुल्ला पीप्लस अलायंस के अध्यक्ष और महबूबा मुफ्ती उपाध्यक्ष होंगी.

By India.com Hindi News Desk | Published:Sat, October 24, 2020 5:01pm

श्रीनगर: गुपकर घोषणा के लिए बने पीपुल्स एलायंस’ की बैठक के बाद नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि वे भाजपा विरोधी हैं, नाकि देश विरोधी. इससे पहले शनिवार को पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती के श्रीनगर स्थित निवास पर 'पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकर डिक्लेयरेशन' के सदस्यों की बैठक हुई. इस बैठक में नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला और नेकां के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला भी उपस्थित रहे. Also Read - Latest Weather Report: जम्मू-कश्मीर, हिमाचल में बर्फबारी से उत्तर भारत में बढ़ी ठिठुरन, तमिलनाडु, आंध्र में ‘निवार’ का खतरा

उन्होंने यहां पत्रकारों से कहा, मैं आपको बताना चाहता हूं कि भाजपा द्वारा यह दुष्प्रचार किया जा रहा है कि पीएजीडी एक देश विरोधी मंच है. मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि यह सच नहीं है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि यह भाजपा विरोधी है लेकिन यह देश विरोधी नहीं है.’’ Also Read - जम्मू में पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला का मकान अतिक्रमण वाली जमीन पर बना है: J&K प्रशासन

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर का पूर्ववर्ती विशेष दर्जा बहाल कराने के वास्ते संघर्ष करने के लिए पीएजीडी को बनाया गया है. अब्दुल्ला ने कहा कि भाजपा ने अनुच्छेद 370 को निरस्त करने और जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने जैसे कृत्यों के माध्यम से संघीय ढांचे को तोड़ने की कोशिश की है. Also Read - बीएसएफ ने जम्मू-कश्मीर के सांबा में 150 मीटर लंबी सुरंग का पता लगाया

बैठक के बाद फारूक अब्दुल्ला ने कहा, "यह ऐंटी नैशनल जमात नहीं है. हमारा लक्ष्य है कि जम्मू-कश्मीर और लेह लद्दाख के लोगों के अधिकार सुनिश्चित हों. धर्म के आधार पर हमें बांटने का प्रयास सफल नहीं होगा. यह धार्मिक लड़ाई नहीं है."

वहीं कश्मीरी नेता सज्जाद लोन ने बताया कि फारूक अब्दुल्ला पीप्लस अलायंस के अध्यक्ष और महबूबा मुफ्ती उपाध्यक्ष होंगी. उन्होंने कहा, "झूठ का पर्दाफाश करने के लिए 1 महीने के अंदर हम कागजात तैयार करेंगे.यह जम्मू-कश्मीर को लोगों को श्रद्धांजलि होगी."

नेकां अध्यक्ष ने कहा, उन्होंने देश के संविधान को नष्ट करने की कोशिश की है, उन्होंने राष्ट्र को विभाजित करने की कोशिश की है, हमने देखा कि संघीय ढांचे को तोड़ने के लिए उन्होंने पिछले साल पांच अगस्त को क्या किया था.’’ उन्होंने कहा, मैं आपको बताना चाहता हूं कि यह (पीएजीडी) एक देश विरोधी जमात नहीं है. हमारा लक्ष्य है कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों के अधिकार सुनिश्चित हों. यही हमारी लड़ाई है, हमारी लड़ाई इससे ज्यादा के लिए नहीं है.’’

अब्दुल्ला ने कहा कि भाजपा जम्मू और देश के अन्य हिस्सों में पीएजीडी में शामिल घटकों के खिलाफ दुष्प्रचार कर रही है. उन्होंने कहा, वे धर्म के नाम पर हमें (जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों को) बांटने की कोशिश कर रहे हैं. यह प्रयास सफल नहीं होगा. यह धार्मिक लड़ाई नहीं है, यह हमारी पहचान की लड़ाई है और उस पहचान के लिए हम एक साथ खड़े हैं.’’

Published:Sat, October 24, 2020 5:01pm

Tags

Farooq Abdullah Jammu and Kashmir Ladakh People's Alliance for Gupkar Declaration

India Hindi News

Delhi Chalo Agitation: किसानों के ‘दिल्ली चलो’ मार्च के कारण हरियाणा सीमा पर तनाव, भारी पुलिस बल तैनात
Bharat Bandh Today 26 November 2020: आज बैंकों के साथ 25 करोड़ श्रमिकों की हड़ताल, पूरे देश में ठप हो सकता है जनजीवन
Mumbai Local News Update: पहले महिला को बचाया फिर उसी के साथ करवाई छेड़खानी और छिनतई
Covid-19 in India Latest Updates: देश में कोविड के मामले 93 लाख के करीब, 24 घंटे में 44,489 नए मामले
Coronavirus Vaccine: चार चरणों में लगेगी वैक्सीन, सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों को दी जाएगी वैक्सीन, जानें आपका नंबर किस चरण में आएगा

Latest News

'मैं हूं डॉन' गाने वाले शान ने बताया अपने हिट सॉन्ग्स का राज, बदलती म्यूजिक इंडस्ट्री पर कही ये बात
Crude Oil Price Today: अमेरिकी भंडार घटने से कच्चे तेल के दाम लगातार पांचवें दिन बढ़े
Shona Shona Trending On Youtube: सिद्धार्थ और शहनाज का नया गाना शोना शोना हुआ सुपरहिट, सिडनाज का दिखा जलवा
Sarkari Naukri 2020: 10वीं पास के लिए इस राज्य में 798 से अधिक Anganwadi पदों पर निकली वैकेंसी, जल्द करें आवेदन 
Vivo Y1s Price in india: Vivo का बजट स्मार्टफोन Vivo Y1s भारत में लॉन्च, जानें कीमत और खूबियां

Explore more