जयपुर: जयपुर आयुक्तालय के शास्त्री नगर थाना क्षेत्र में सोमवार रात को सात साल की एक बच्ची से कथित दुष्कर्म की घटना के बाद क्षेत्र में मंगलवार को भी तनाव जैसी स्थिति बनी रही. क्षेत्र में कानून- व्यवस्था बनाये रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है और अफवाहों को रोकने के लिये 13 थाना क्षेत्रों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है.

संभागीय आयुक्त केसी वर्मा ने मंगलवार दोपहर दो बजे से बुधवार सुबह 10 बजे तक रामगंज, गलतागेट, माणकचौक, सुभाषचौक, ब्रह्मपुरी, नाहरगढ़, कोतवाली, संजय सर्किल, शास्त्री नगर, भट्‌टा बस्ती, लालकोठी, आदर्श नगर और सदर थाना इलाके में इंटरनेट सेवाएं बंद करने के आदेश दिये हैं. सोमवार रात को घटना से गुस्साए सैंकड़ों लोगों ने कांवटिया अस्पताल के बाहर एकत्रित होकर प्रदर्शन किया. पुलिस ने मंगलवार को बताया कि एक मोटरसाइकिल सवार अज्ञात व्यक्ति ने सात वर्षीय बच्ची का घर के पास से अपहरण कर नजदीक सूनसान इलाके में ले जाकर उसके साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किया और फिर उसे घर के पास छोड़कर फरार हो गया.

राजस्थान में 12 साल से कम की लड़की से रेप पर होगी फांसी की सजा, सदन में बिल पास

पीड़िता को शास्त्री नगर के कांवटिया अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे जे के लोन अस्पताल में रेफर किया गया. पीड़िता की हालत स्थिर है. पुलिस उपाधीक्षक (उत्तर) मनोज कुमार ने बताया कि क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिये अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है. स्थित पूरी तरह नियंत्रण में है और आरोपी को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है.

राजस्‍थान में पति के सामने 5 लोगों ने महिला से किया गैंग रेप, वीडियो वायरल

मंगलवार को यातायात मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने जे के लोन अस्पताल पहुंच कर पीडिता के स्वास्थ्य की जानकारी ली. खाचरियावास ने कहा कि सरकार इस तरह के मामलों में गंभीर है. यह एक घृणित अपराध है और इस तरह के अपराध करने वाले आरोपियों के लिये सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए. पुलिस बल आरोपी को पकडने का प्रयास कर रही है. अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (सिविल राईट्स) जंगा श्रीनिवास राव ने भी जे के लोन अस्पताल में पीड़िता से मुलाकात कर उसकी स्थिति की जानकारी ली.