नई दिल्ली: तीन चार दिन में एक साथ कई संदिग्ध वीडियो बाहर आने से दिल्ली पुलिस में भी खलबली मची हुई है. चार दिन से चुप, अंतत: मंगलवार को दिल्ली पुलिस अपराध शाखा की एसआईटी को जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय का दौरा करना ही पड़ गया. दौरे वाली टीम के प्रमुख खुद डीसीपी एसआईटी राजेश देव थे. टीम कई घंटे तक जामिया में डेरा जमाए रही. मंगलवार देर रात दिल्ली पुलिस मुख्यालय ने इसकी जानकारी खुद ही अधिकृत बयान जारी करके दी. Also Read - विदेश में हैं बच्‍चे, लॉकडाउन में अकेले रह रहे बुजुर्ग दंपति के लिए देवदूत बन गई दिल्‍ली पुलिस

दिल्ली पुलिस मुख्यालय द्वारा जारी अधिकृत बयान के अनुसार, “जामिया मिलिया इस्लामिया की लाइब्रेरी में काफी देर तक एसआईटी टीम मौजूद रही. टीम ने उन स्थानों का भी गहन निरीक्षण किया जो वीडियो में दिखाई पड़ रहे हैं.”जामिया मिलिया परिसर में पहुंची दिल्ली पुलिस अपराध शाखा की एसआईटी ने स्टाफ और छात्रों से भी बातचीत की. बातचीत का मकसद था हर बिंदु की तह तक पहुंचना. इस अवसर पर विवि के चीफ प्रॉक्टर ने भी सहयोगात्मक रवैया अख्तियार किया. Also Read - दिल्ली सरकार ने अगले महीने के लिए राशन देना शुरू किया, जानिए कहां मिलेगी ये सुविधा

दिल्ली पुलिस मुख्यालय के बयान के मुताबिक, “जामिया मिलिया विश्वविद्यालय परिसर में एसआईटी टीम के सदस्य करीब 3 घंटे मौजूद रहे.” Also Read - भारत में लॉकडाउन! दिल्ली पुलिस ने लोगों को चेताया, भूलकर भी न खोलें ये वेबसाइट, नहीं तो...