नई दिल्ली: जम्मू एवं कश्मीर के बडगाम जिले में मुठभेड़ के दौरान दो आतंकवादी मारे गए. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि चादूरा क्षेत्र के गोपालपोरा गांव में यह मुठभेड़ हुई जहां से हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए हैं. पुलिस और सुरक्षा बलों द्वारा संयुक्त अभियान की आतंकवादियों की खुफिया जानकारी मिलने के बाद देर रात शुरू किया गया था. आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों को पास आता देख उन पर गोली चलानी शुरू कर दी जिसके बाद दोनों ओर से मुठभेड़ शुरू हो गई. फिलहाल मारे गए आतंकवादियों की पहचान नहीं हुई है.

गौरतलब है कि दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में मंगलवार को सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ के दौरान बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए सुरक्षा बलों ने खतरनाक हिज्बुल आतंकवादी हिलाल अहमद राठेर को मार गिराया था. राठेर ने पिछले साल लश्कर-ए-तैयबा के खतरनाक आतंकवादी नवीद जट को भगाने में मदद की थी. मुठभेड़ में सेना का एक जवान भी शहीद हो गया था. अधिकारियों ने बताया कि आतंकवादियों के हमलों से अत्यंत प्रभावित पुलवामा जिले के रतनीपुरा में मुठभेड़ के दौरान राठेर (21) को मार गिराया गया. इससे पहले जम्मू कश्मीर पुलिस को वहां आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिली थी.

पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि सूचना के आधार पर सेना और सीआरपीएफ के साथ मिलकर पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया. तलाश अभियान चल ही रहा था कि आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी. सुरक्षा बलों ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब दिया, जो बाद में मुठभेड़ में तब्दील हो गयी.उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया, जिसका शव मौके से बरामद कर लिया गया है. पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर संभाग) स्वयं प्रकाश पाणि ने कहा, ‘‘राठेर, लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी नवीद जट को श्रीनगर के अस्पताल से भगाने की साजिश का मुख्य आरोपी था.