जम्मू-कश्मीर के सोनमर्ग में बुधवार को बर्फिले तूफान की चपेट में आने से सेना के पांच जवानों की मौत हो गई। जबकि 5 के लापता होने की खबर है। राहत और बचाव का कार्य युद्धस्तर पर जारी है।
बताया जा रहा  है कि बर्फीले तूफान की चपेट में गांदरबल स्थित आर्मी कैंप आया है। पिछले कुछ दिनों से इस इलाके में लगातार भारी बर्फबारी जारी है। इससे पहले मौसम विभाग की ओर से हिमस्खलन और बर्फिले तूफान की चेतावनी जारी की गई थी।


गौरतलब है कि इससे पहले जम्मू एवं कश्मीर में मंगलवार को मैदानी इलाकों में हल्की जबकि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सामान्य से भारी बर्फबारी हुई थी। मौसम विभाग ने अगले दो दिनों में अधिक बारिश और बर्फबारी की संभावना जताई है। सूत्रों ने बताया कि, “जम्मू एवं कश्मीर में बीते 12 घंटों के दौरान मैदानी इलाकों में हल्की बारिश और बर्फबारी हुई जबकि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी बर्फबारी हुई।” यह भी पढ़ें: जम्मू और कश्मीर: पुलवामा में आतंकियों ने पुलिस-CRPF की पेट्रोलिंग टीम पर अचानक की खुली फायरिंग, एक जवान जख्मी

 

मौसम विभाग का इस मामले में कहना है कि “पश्चिमी विक्षोभ के चलते अगले दो दिनों यानी गुरुवार तक अधिक बारिश और बर्फबारी की संभावना है।” बीते 24 घंटों के दौरान भारी बदली छाए जाने से राज्य में न्यूनतम तापमान में सुधार हुआ है। जम्मू प्रांत में मंगलवार को न्यूनतम तापमान हिमांक बिंदु से ऊपर रहा है।

मौसम विभाग के अनुसार, “जम्मू में मंगलवार को न्यूनतम तापमान 11.3 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि बटोट में 6.9 डिग्री सेल्सियस, बनिहाल में 3.2 डिग्री सेल्सियस, भदरवाह में 3.0 डिग्री सेल्सियस और कटरा में 11.9 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

श्रीनगर में रात के समय न्यूनतम तापमान शून्य से 0.6 डिग्री सेल्सियस नीचे जबकि पहलगाम में शून्य से 1.3 डिग्री सेल्सियस नीचे और गुलमार्ग में शून्य से 5.4 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। इसके अलावा “लेह में मंगलवार को न्यूनतम तापमान शून्य से 6.1 डिग्री सेल्सियस नीचे, कारगिल में शून्य से 8.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।”