बारामुला: जम्मू-कश्मीर में एक बार इंसानियत शर्मसार हो गई. यहां के बारामुला इलाके के उरी में 9 साल की बच्ची से 14 साल के सौतेले भाई ने अपने दोस्तों के साथ गैंगरेप किया. इसके बाद उसकी हत्या कर दी. बच्ची से गैंगरेप कराने का आरोप उसकी ही सौतेली मां पर है. सौतेली मां ने अपने 14 साल के बेटे और उसके दोस्तों को गैंगरेप करने को कहा. गैंगरेप के बाद कुल्हाड़ी से हत्या कर चाकू से बच्ची की दोनों आंखें निकाल ली गईं. हत्या के बाद बच्ची के शरीर पर एसिड फेंका और शव को जंगल में लकड़ियों, पत्तों से ढक दिया. पूरी घटना के समय महिला मौके पर ही मौजूद रही.Also Read - कब बहाल होगा जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा? भाजपा बोली- पहले चुन कर की जा रही हत्याएं बंद हों

सौतेली मां ने बेटे को किया रेप का इशारा Also Read - Jammu & Kashmir को 25 नेशनल हाईवे की सौगात देंगे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, आज रखेंगे आधारशिला

बताया जा रहा है कि 9 साल की बच्ची से रेप और हत्या कराने की साजिश सौतेली मां फहमीदा ने ही रची थी. वह बच्ची अगवा कर जंगल की ओर लेकर गई. पीछे-पीछे उसका 14 साल का बेटा और उसके दो दोस्त भी आए. जंगल में काफी अंदर पहुंचने पर फहमीदा ने अपने बेटे को बच्ची से रेप का इशारा किया. बेटा दो दोस्तों के साथ बच्ची पर झपट पड़ा. उसने व उसके 14 व 19 साल के दोस्तों ने गैंगरेप किया. इसके बाद बच्ची की कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या कर दी. बच्ची के ऊपर एसिड डाला. इससे पहले चाकू से उसकी आंखें निकाल लीं. और बच्ची को जंगल में ही पत्तों व लकड़ियों से ढंक दिया. पुलिस को यहां शव मिलने की सूचना मिली. Also Read - Hyderpora Encounter: जम्मू-कश्मीर के DGP बोले- 'अगर कुछ भी गलत हुआ है तो पुलिस उसमें सुधार के लिए तैयार'; मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

कठुआ गैंगरेप: पीड़िता के अंतिम 7 दिन की दास्तां, मास्टरमाइंड ने पहले की पूजा फिर बेटे-भतीजे से कराया रेप

सौतेली मां, उसका बेटा अरेस्ट

पुलिस का कहना है कि मामले खुलासा कर दिया गया है. फहमीदा, उसके बेटे व गैंगरेप में शामिल रहे दोनों आरोपियों को अरेस्ट कर लिया गया है. कुल्हाड़ी और चाकू भी बरामद कर लिया गया है, जिससे हत्या की गई थी. पुलिस ने बताया कि घटना के समय आरोपी महिला मौजूद थी. घटना की जांच के लिए पुलिस टीम का गठन किया गया है.

नफरत बनी वारदात की वजह

पुलिस के अनुसार, महिला के पति ने एक और शादी कर ली थी. करीब 10 साल पहले महिला के पति ने झारखंड की एक महिला से शादी की. वह अपनी दूसरी पत्नी को अधिक समय देता था. फहमीदा के पास कम ही आता था. वह दूसरी पत्नी से हुई बच्ची से भी बेहद प्यार करता था. फहमीदा इसी बात को लेकर दूसरी पत्नी से हुई बच्ची से भी नफरत करने लगी. यह नफरत इस हद तक पहुंच गई कि उसने दूसरी पत्नी की बेटी को अगवा कर लिया और अपने बेटे से ही गैंगरेप कराकर मरवा दिया.