नई दिल्ली:जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर गुरुवार को आतंवादियों ने आईईडी विस्फोट करते हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ)के वाहन पर गोलियां बरसाईं. इस आतंकवादी घटना में सीआरपीएफ के 12 शहीद हुए हैं.  वहीं 12 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. न्यूज एजेंसी एएनआई ने यह जानकारी दी. श्रीनगर से करीब 30 किलोमीटर दूर लेथपोरा में यह आतंकवादी हमला हुआ. जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) आतंकी समूह ने घटना की जिम्मेदारी ली है.

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया, घाटी से भयानक खबर आ रही है. एक IED विस्फोट में CRPF के कई सैनिकों शहीद हुए हैं और कई घायल हुए हैं. मैं इस हमले की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं. मैं परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं. जैश ने विस्फोट को एक आत्मघाती (फिदायीन) हमला बताते हुए हमले की जिम्मेदारी ली है. यह 2004-05 से पहले के उग्रवाद के काले दिनों की याद दिलाता है.

बता दें कि जम्मू कश्मीर में पुलवामा जिले के एक निजी विद्यालय में कल ही हुए विस्फोट में कम से कम 12 छात्र घायल हो गए थे. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि विस्फोट जिले में काकापुरा क्षेत्र के नरबल गांव में दोपहर के समय हुआ. विस्फोट से कक्षा दसवीं के कम से कम 12 विद्यार्थी घायल हो गए. अधिकारी के अनुसार घायल विद्यार्थियों को अस्पताल ले जाया गया. उनकी हालत स्थिर बतायी जा रही है. उनके मुताबिक पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और यह पता लगाने में जुट गए हैं कि विस्फोट कैसे हुआ. इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है.