श्रीनगर: जम्मू कश्मीर में पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच शनिवार को मतदान शुरू हुआ. 687 अति संवेदनशील मतदान केंद्रों  समेत 3,296 मतदान केंद्रों पर सुबह आठ बजे मतदान शुरू हुआ और यह मतदान दोपहर दो बजे तक खत्म होगा. इसमें से 1,303 कश्मीर में और 1,993 मतदान केंद्र जम्मू में है. Also Read - कोरोना वायरस के बारे में सही सूचना के लिये 24 घंटे में पोर्टल बनाये केन्द्र: सुप्रीम कोर्ट

सुरक्षा के व्यापक इंतजाम
अधिकारियों ने बताया कि 687 मतदान केंद्रों को ‘‘अति संवेदनशील’’ बताया गया है जिनमें से 491 कश्मीर मंडल में और 196 जम्मू मंडल में हैं. अधिकारियों ने बताया कि पहले चरण के मतदान में 85 सरपंच और 1,676 पंच निर्विरोध चुने गये जबकि 420 सरपंच और 1,845 पंचों के लिए मतदान चल रहा है जिसके लिए 5,585 उम्मीदवार मैदान में हैं. उन्होंने कहा कि सरपंच सीटों के लिए 4,45,059 मतदाता हैं और पंच निर्वाचन क्षेत्रों के लिए 2,72,792 मतदाता हैं. अधिकारियों ने बताया कि मतदान के सुचारू रूप से संचालन के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किए गए हैं. केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की तैनाती समेत सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं.

चुनावों का बहिष्कार
सरकार ने उन पंचायत इलाकों में मतदान के दिन अवकाश घोषित किया है जहां चुनाव चल रहे हैं ताकि मतदाता वोट दे सकें. नेशनल कांफ्रेंस, पीडीपी और माकपा ने उच्चतम न्यायालय में संविधान के अनुच्छेद 35-ए को कानूनी चुनौती देने के कारण चुनावों का बहिष्कार किया है. उन्होंने पिछले महीने हुए नगर निकाय चुनाव का भी बहिष्कार किया था. कश्मीर घाटी में अलगाववादियों ने चुनावों का बहिष्कार करने और लोगों से शनिवार को बंद रखने का आह्वान किया है.

पीएम मोदी के चैलेंज पर चिदंबरम ने दिया जवाब, गिनाए 15 कांग्रेस अध्यक्ष के नाम