श्रीनगर: मंगलावर को कश्मीर में बड़े हमले को अंजाम देते हुए आतंकवादियों ने पांच गैर कश्मीरियों की हत्या कर दी। इस हमले में एक अन्य मजदूर घायल हुआ है। समाचार ऐजेंसी एएनआई ने जम्मू कश्मीर पुलिस सूत्रों के हवाले से लिखा है कि सुरक्षा बलों ने इस इलाके की घेराबंदी कर ली है और वहां बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. इसके अलावा अतिरिक्त सुरक्षा बलों को भी मौके पर बुलाया गया है. माना जा रहा है कि आतंकवादियों द्वारा मारे गए मजदूर पश्चिम बंगाल के हैं और यहां रोजमर्रा का काम करते थे.Also Read - Gujarat ATS ने पाक को खुफिया जानकारी भेज रहे BSF कॉन्स्टेबल मोहम्मद सज्जाद को किया अरेस्‍ट

हमले में हताहत हुए सभी मजदूर पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के थे. यह हमला उस दिन हुआ है जब यूरोपीय संघ का एक प्रतिनिधिमंडल अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू कश्मीर को प्राप्त विशेष राज्य का दर्जा वापस लिये जाने के बाद स्थानीय लोगों से बात करने और उनका अनुभव जानने के लिए कश्मीर की यात्रा पर है. अनुच्छेद 370 पर केंद्र के फैसले के बाद से आतंकवादी ट्रकवालों और मजदूरों खासकर उन लोगों को को निशाना बना रहे हैं जो कश्मीर के बाहर से घाटी में आये हैं. Also Read - गृह मंत्री अमित शाह ने आगे बढ़ाया अपना जम्मू-कश्मीर दौरा, पुलवामा में CRPF के साथ बिताएंगे रात


सोमवार को उधमपुर जिले के एक ट्रक चालक को अनंतनाग में आतंकवादियों ने मार डाला था. पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों के निरसन की घोषणा के बाद आतंकवादियों के हमले में मारा जाने वाला यह चौथा ट्रक ड्राइवर था. 24 अक्टूबर को आतंकवादियों ने शोपियां जिले में दो गैर कश्मीरी ट्रक ड्राइवरों की हत्या कर दी थी. Also Read - गृह मंत्री अमित शाह जम्मू में बॉर्डर की अग्रिम पोस्‍ट पर पहुंचे, BSF जवानों का बढ़ाया उत्‍साह

14 अक्टूबर को शोपियां जिले में ही दो आतंकवादियों ने राजस्थान पंजीकरण नंबर वाले एक ट्रक के ड्राइवर की गोली मारकर हत्या कर दी थी. दो दिन बाद शोपियां जिले में ही आतंकवादियों के हमले में पंजाब के सेब व्यापारी चरणजीत सिंह की मौत हो गयी थी और संजीव घायल हो गया था. पुलवामा जिले में आतंकवादियों ने छत्तीसगढ़ के एक ईंट भट्टा मजदूर की हत्या कर दी थी.