श्रीनगर: मंगलावर को कश्मीर में बड़े हमले को अंजाम देते हुए आतंकवादियों ने पांच गैर कश्मीरियों की हत्या कर दी। इस हमले में एक अन्य मजदूर घायल हुआ है। समाचार ऐजेंसी एएनआई ने जम्मू कश्मीर पुलिस सूत्रों के हवाले से लिखा है कि सुरक्षा बलों ने इस इलाके की घेराबंदी कर ली है और वहां बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. इसके अलावा अतिरिक्त सुरक्षा बलों को भी मौके पर बुलाया गया है. माना जा रहा है कि आतंकवादियों द्वारा मारे गए मजदूर पश्चिम बंगाल के हैं और यहां रोजमर्रा का काम करते थे.

हमले में हताहत हुए सभी मजदूर पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के थे. यह हमला उस दिन हुआ है जब यूरोपीय संघ का एक प्रतिनिधिमंडल अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू कश्मीर को प्राप्त विशेष राज्य का दर्जा वापस लिये जाने के बाद स्थानीय लोगों से बात करने और उनका अनुभव जानने के लिए कश्मीर की यात्रा पर है. अनुच्छेद 370 पर केंद्र के फैसले के बाद से आतंकवादी ट्रकवालों और मजदूरों खासकर उन लोगों को को निशाना बना रहे हैं जो कश्मीर के बाहर से घाटी में आये हैं.


सोमवार को उधमपुर जिले के एक ट्रक चालक को अनंतनाग में आतंकवादियों ने मार डाला था. पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों के निरसन की घोषणा के बाद आतंकवादियों के हमले में मारा जाने वाला यह चौथा ट्रक ड्राइवर था. 24 अक्टूबर को आतंकवादियों ने शोपियां जिले में दो गैर कश्मीरी ट्रक ड्राइवरों की हत्या कर दी थी.

14 अक्टूबर को शोपियां जिले में ही दो आतंकवादियों ने राजस्थान पंजीकरण नंबर वाले एक ट्रक के ड्राइवर की गोली मारकर हत्या कर दी थी. दो दिन बाद शोपियां जिले में ही आतंकवादियों के हमले में पंजाब के सेब व्यापारी चरणजीत सिंह की मौत हो गयी थी और संजीव घायल हो गया था. पुलवामा जिले में आतंकवादियों ने छत्तीसगढ़ के एक ईंट भट्टा मजदूर की हत्या कर दी थी.