श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने लश्कर-ए-तैयबा के 19 वर्षीय आतंकी को जिंदा पकड़ लिया है. बारामूला के इस आतंकी का नाम फारुख डार है. इससे पहले भारतीय सेना ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर जैश-ए-मोहम्मद के स्वंयभू प्रमुख कारी यसिर सहित तीन आतंकियों को मार गिराया था.

पुलिस और सेना के अधिकारियों ने बताया कि यासिर पिछले साल पुलवामा हमले में शामिल था जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान मारे गए थे. संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, श्रीनगर स्थित चिनार कोर के जनरल-ऑफिसर-कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों और पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने कहा कि आतंकवादी समूह गणतंत्र दिवस पर एक बड़े हमले की योजना बना रहा था.

कुमार ने कहा, “त्राल मुठभेड़ में हमने तीन आतंकवादियों को मार दिया जिसमें जैश ए मोहम्मद के कश्मीर क्षेत्र के स्वयंभू प्रमुख कारी यासिर शामिल था. वह पिछले साल फरवरी (आईईडी) विस्फोट और लेथपोरा (आईईडी) विस्फोट में शामिल थे. वह एक आईईडी विशेषज्ञ है और उग्रवादियों की भर्ती के साथ-साथ पाकिस्तान से उन्हें लाने ले जाने में भी शामिल था.”