जम्मू: जम्मू कश्मीर के कारागार पुलिस महानिदेशक वी के सिंह ने बुधवार को कहा कि कैदियों के पास जल्द ही ‘कैदी कॉलिंग’ सुविधा होगी, जिससे वे अपने रिश्तेदारों और अधिवक्ताओं से बात कर सकेंगे. इस प्रणाली के तहत कैदी चुनिंदा दिनों में अपने दो नजदीकी रिश्तेदारों से पांच मिनट तक बातचीत कर सकते हैं.

जम्मू स्थित जेलों के अधीक्षकों के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए सिंह ने यहां कहा कि हालांकि, इस सुविधा का लाभ उन कैदियों को नहीं मिल पाएगा, जो गंभीर अपराधों में जेल में बंद हैं अथवा जो कैदी जेल में दुर्व्यवहार करते हैं.

उन्होंने बताया कि ‘कैदी कॉलिंग’सुविधा केंद्रीय कारागार श्रीनगर और कोटभलवाल जम्मू के अलावा स्थानीय जिला जेल में शुरू होगी. अधिकारी ने कहा, इस प्रणाली के तहत कैदी चुनिंदा दिनों में अपने दो नजदीकी रिश्तेदारों से पांच मिनट तक बातचीत कर सकते हैं.

कारागार पुलिस महानिदेशक ने कहा कि विभाग जेलों में कैबिन और चाइल्ड फ्रेंडली कॉर्नर बनाकर मुलाकात वाले स्थानों में सुधार कर रहा है.

सिंह ने जेलों में व्यावसायिक और शैक्षिक कौशल में सुधार के अलावा सुरक्षा और अनुशासन बनाए रखने के लिए किए गए प्रयासों के लिए जेल अधीक्षकों की सराहना की. अधिकारी ने कहा, जेल कर्मचारियों के कल्याण, प्रशिक्षण और उनके विकास पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है.