नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर में बढ़ती आतंकवादी घटनाओं के बीच सुरक्षाबलों ने एक बड़ी खबर का खुलासा किया है. ऑफिशियल रिपोर्ट के मुताबिक आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदिन के कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद ऐसे संगठनों ने बड़ी संख्या में आतंकियों को अपने बेड़े में शामिल किया है. जानकारी के अनुसार आतंकवादियों की ये भर्तियां पिछले साल हुए अनकाउंटर के 40 दिन भीतर की गई हैं.

ये भी पढ़ें: भारत-पाक DGMO मीटिंग: 2003 का संघर्ष विराम समझौता पूरी तरह लागू करने पर सहमत

ये जानकारी जम्मू कश्मीर सुरक्षा एजेंसिंयों ने एकत्रित की हैं. बता दें कि हाल ही में जम्मू खश्मीर सरकार ने फरमान जारी कर कहा था रमजान के दौरान भारत की ओर से युद्दविराम संधि का पालन किया जाएगा. इस रिपोर्ट में 5 नवंबर से 26 अपैल 2016 तक 43 एनकाउंटर्स की बारीकी से स्टडी की गई है. बता दें इन एनकाउंटर्स में 77 आकंरी मारे गए थे.

ये भी पढ़ें: गिलगित-बाल्टिस्तान मुद्दे पर चीन का टिप्पणी से इंकार, कहा यह भारत-पाक के बीच का मामला

बता दें कि 2 जुलाई 2016 को बुरहान वानी की मौत के बाद 121 आतंकवादियों को मार गिराया जा चुका है जबकि 216 लोग ऐसे हैं जो आतंकी संगठनों में शामिल हो चुके हैं. इनमें से 104 तो ऐसे हैं जो सीधे तौर पर अपने इलाके के कुख्यात आतंकियों की मौत से संबंध रखते हैं.