श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के पूर्व मंत्री अल्ताफ बुखारी रविवार को कश्मीर में अपनी नई राजनीतिक पार्टी ‘अपनी पार्टी’ को लांच करेंगे. बुखारी ने आईएएनएस को बताया, “हां, हम रविवार को औपचारिक घोषणा करेंगे.” बुखारी कश्मीर में मुख्यधारा के पहले राजनेता हैं, जिन्होंने सार्वजनिक रूप से कहा था कि अनुच्छेद 370 समाप्त होने पर कश्मीरी नित्य शोक नहीं मना सकते. Also Read - Coronavirus Effect: लॉकडाउन के चलते बिजली वितरण कंपनियों को बिल के भुगतान में तीन महीनें की मोहलत

उन्होंने कहा कि संभावित राजनीतिक लक्ष्य प्राप्त करने की कोशिश करने का समय आ गया है. बुखारी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने जनवरी में जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक गतिविधियों को बहाल करने की मांग को लेकर उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू को एक ज्ञापन सौंपा था. उन्होंने जम्मू और कश्मीर के निवासियों के लिए राज्य का दर्जा बहाल करने और डोमिसाइल अधिकारों की मांग की थी. Also Read - रवि शास्त्री बोले-न्यूजीलैंड दौरे पर हावी होने लगी थी थकान, COVID-19 के कारण मिले ब्रेक का किया स्वागत

पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में कोई पहली नई राजनीतिक पार्टी सामने आ रही है. इस नई पार्टी से कई बड़े चेहरे जुड़ रहे हैं, जिनमें पीडीपी के पूर्व विधायकों के नाम शामिल हैं. नई पार्टी का शुभारंभ ऐसे समय में किया जा रहा है, जब पारंपरिक कश्मीर आधारित राजनीतिक दलों के शीर्ष नेतृत्व यानी नेशनल कॉन्फ्रेंस के पूर्व मुख्यमंत्रियों फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और पीडीपी की महबूबा मुफ्ती जन सुरक्षा अधिनियम के तहत हिरासत में हैं. Also Read - अमेरिकी कंपनी ने बनाई कोरोना जांच करने वाली नई किट, पांच मिनट में बता देगा व्यक्ति संक्रमित है या नहीं

(इनपुट आईएएनएस)