Gupkar Alliance leaders to attend all-party meet called by PM Narendra Modi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में 24 जून को होने वाली सर्वदलीय बैठक में गुपकार नेता शामिल होंगे. गुपकार गठबंधन के अध्यक्ष फारूक अब्दुला ने आज इसकी घोषणा की. गठबंधन के नेताओं ने आप में गहन विचार-विमर्श के बाद यह फैसला किया. पीएम की बैठक में शामिल होने के मसले पर इनकी पिछले तीन दिन से बैठक चल रही थी.Also Read - Assam-Mizoram Border Dispute: पीएम नरेंद्र मोदी आज असम के सांसदों से करेंगे मुलाकात, शांति स्थापित करने का है प्रयास

इस बैठक को लेकर जम्मू-कश्मीर में नेशनल कांफ्रेंस और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) सहित मुख्यधारा के सभी क्षेत्रीय दलों के भीतर सोमवार को लगातार दूसरे दिन गहन राजनीतिक विचार-विमर्श हुआ था. इसके बाद इसपर आज की बैठक में अंतिम फैसला लिया गया. Also Read - बड़ा खुलासा! वैध दस्तावेज के सहारे पाकिस्तान गए कई कश्मीरी युवा आतंकवादी बनकर लौटे

जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त होने के बाद मुख्यधारा के छह दलों ने पीएजीडी का गठन किया था. प्रधानमंत्री के निमंत्रण पर चर्चा करने के लिए पीएजीडी के नेता मंगलवार को नेकां के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला के आवास पर बैठक की. इसी बैठक में पीएम की मीटिंग में शामिल होने का फैसला लिया गया. Also Read - Jammu And Kashmir: देशद्रोहियों और पत्थरबाजों पर कड़ा एक्शन, न सरकारी नौकरी मिलेगी, ना विदेश जाने की मंजूरी

नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) ने सोमवार को ही संकेत दे दिया था कि वह बैठक में शामिल हो सकता है. पार्टी ने कहा था कि यह अच्छा है कि केंद्र ने यह महसूस किया है कि मुख्यधारा के क्षेत्रीय दलों के बगैर केंद्र शासित प्रदेश में ‘चीजें काम नहीं करेंगी.’

नेशनल कांफ्रेंस के कश्मीर के प्रांतीय अध्यक्ष नासिर असलम वानी ने संवाददाताओं को यहां बताया था, ‘हम यह कहते आ रहे हैं कि पिछले दो सालों में जमीन पर कोई बदलाव नहीं हुआ है. यह अच्छा है कि उन्हें यह महसूस हुआ है कि स्थानीय मुख्य धारा की पार्टियों के बगैर काम नहीं चलेगा. उनके सभी बड़े-बड़े वादे धरातल पर खोखले साबित हो गए और इससे कुछ भी हासिल नहीं हुआ है.’ उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में मुख्यधारा की पार्टियों को बदनाम करने से हटकर उन्हें बातचीत के ​लिये बुलाने का बदलाव ‘अच्छा’ है.