श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में शहरी निकाय चुनाव की घोषणा राज्य निर्वाचन आयोग ने शनिवार को कर दी है. आठ अक्टूबर से चार चरणों में होंगे. राज्य निर्वाचन आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी. राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शालीन काबरा ने श्रीनगर में प्रेस में कहा कि राज्य में नगर निगम चुनाव 8,10,13 और 16 अक्टूबर को चार चरणों में कराए जाएंगे. Also Read - मार्केट इंटरवेंशन स्कीम के विस्तार को मंजूरी, मोदी सरकार के फैसले से जम्मू-कश्मीर के सेब उत्पादकों की बढ़ेगी कमाई

मुख्य निर्वाचन अधिकारी काबरा ने कहा, 4 चरणों में नगरपालिका चुनाव आयोजित किए जाएंगे. मतदान की तिथि अक्टूबर 08, 10 अक्टूबर, 13 अक्टूबर और 16 अक्टूबर होगी. सभी चरणों खत्म होने के बाद 20 अक्टूबर को गिनती होगी. मतदान का समय 7 बजे से दोपहर 2 बजे तक होगा.” Also Read - कश्मीर में भारत 22 अक्टूबर को मनाएगा 'काला दिवस', 1947 में पाकिस्तान ने घाटी में कराई थी हिंसा

इन घोषणाओं के साथ ही चुनाव नहीं कराए जाने को लेकर सभी कयासों पर अब विराम लग गया है. राज्य की दो बड़ी क्षेत्रीय पार्टियों नेशनल कांफ्रेंस और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी(पीडीपी) ने घोषणा की है कि वे लोग इन चुनावों से दूर रहेंगे.

वहीं, राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा, अनुच्छेद 35 ए का मामला लंबे समय से न्यायालय में विचाराधीन है. हमने कहा था कि जब तक एक नई सरकार का गठन नहीं होता तब तक हम इस मामले में स्टैंड नहीं ले सकते हैं. मैं उनसे चुनाव में भाग लेने का अनुरोध करना चाहता हूं. चुनाव न तो दिल्ली के लिए हैं और न ही मेरे लिए बल्कि जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए हैं.

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी काबरा ने कहा, “ये चुनाव 8 अक्टूबर से शुरू होंगे. पहले चरण की अधिसूचना 18 सितंबर को जारी होगी. दूसरे चरण की 20 सितंबर, तीसरे चरण की 22 सितंबर और 24 सितंबर को चौथे चरणों की अधिसूचना जारी की जाएगी.” काबरा ने कहा, “चुनाव के लिए 17 लाख मतदाता पंजीकृत हैं.”

जम्मू-कश्मीर में शहरी निकाय चुनाव की घोषणा पर कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि राज्य में इस समय चुनाव कराने के लिए सही समय नहीं है. अलगाववादियों ने लोगों से नगर निगम व पंचायत दोनों चुनावों का बहिष्कार करने के लिए कहा है.