नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर के नवाकदल में सोमवार रात से सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच जारी मुठभेढ़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. एनकाउंटर में दोनों ही आतंकी मारे गए. आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद मिला है. आतंकियों के साथ यह मुठभेड़ सोमवार रात से शुरू हुई. आतंकियों के बीच में किसी तरह से बातचीत न हो सके पुलिस ने मुठभेढ़़ के दौरान इलाकें में इंटरनेट सेवा और कॉलिंग सेवा बंद करा दी थी. Also Read - VIDEO: आर्मी ने आतंकियों की कार के उड़ाए परखच्चे, जैश-हिजबुल का टेटर प्‍लान धुंआ-धुंआ

डीजीपी दिलबाग सिंह ने मुठभेढ़ के बाद जानकारी देते हुए कहा कि इस ऑपरेशन में भारतीय जवानों को कामयाबी हासिल हुई हैं उन्होंने बताया कि दोनों आतंकियों की पहचान कर ली गई है. इनमें से एक का नाम जुनैद अशरफ खान (Junaid Ashraf Khan)  और दूसरे का नाम तारिक अहमद शेख  (Ahmed Sheikh ) था. अहमद शेख पुलवामा का रहने वाला था जबकि जुनैद अशरफ खान श्रीनगर का रहने वाला था. Also Read - सुरक्षाबलों ने कैसे रोका पुलवामा 2.0, IG ने सुनाई हैरतअंगेज दास्तां

बता दें कि सोमवार शाम को पुलिस को सूचना मिली थी कि इलाके में कुछ आतंकी छिपे हुए हैं जिसके बाद पुलिस ने सेंट्रल रिजर्व पुलिस के साथ मिलकर सर्च ऑपरेशन शुरू किया. इसी दौरान आतंकियों की तरफ से गोली बारी शुरू हो गई. आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच पूरी रात मुठभेढ़ चली. इस दौरान पुलिस ने पूरे इलाके में इंटरनेट और मोबाइल सेवा भी बंद कर दी थी.

सुरक्षाबलों ने सोमवार रात से सर्च ऑपरेशन शुरू किया. इस दौरान छिपे आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी. आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच पूरी रात मुठभेड़ चली. मिली जानकारी के मुताबिक 2 आतंकियों को सुरक्षाबलों ने चारों तरफ से घेर लिया है और सुरक्षाबलों से बचकर भागने के लिए आतंकी लगातार गोलीबारी कर रहे हैं.

बीएसएनल की इंटरनेट और कॉलिंग सर्विस को छोड़कर बांकी सभी टेलीकॉम कंपनियों की सर्विस पूरी तरह से बंदकर दी गई है. सुरक्षा बलों ने ऐहतियात के तौर पर यह कदम उठाया है ताकि इलाके में छुपे आतंकी मोबाइल सेवा का लाभ न उठा सकें.