श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के त्राल सहित दक्षिण के इलाके में आतंकवादियों ने पुलिसकर्मियों के घर पर हमला बोल दिया. रिपोर्ट के मुताबिक, मिडोरा इलाके में आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के परिजनों को अगवा कर लिया है, इसमें पुलिसमैन गुलाम हसन मीर का बेटे अहमद भी शामिल है. बता दें कि गुरुवार की शाम को भी एक पुलिसकर्मी के बेटे को अगवा किया गया था. Also Read - कश्मीर में 72 घंटों में मारे गए 12 आतंकवादी, हार्ड कोर आतंकी थे: डीजीपी

दूसरी तरफ बताया जा रहा है कि आतंकियों ने शोपियां, कुलगाम, अनंतनाग और अवंतिपोरा इलाके से पांच लोगों को अगवा किया है. इसमें सभी के परिजन जम्मू-कश्मीर पुलिस में काम करते हैं. वहीं, गांदरबल में अगवा किए गए पुलिसकर्मी के परिजन को आतंकवादियों ने बुरी तरह पीट कर छोड़ दिया है. Also Read - Encounter in j&K Update: सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, 72 घंटे में 4 एनकांउटर में 12 आतंकियों का सफाया

त्राल को हिजबुल आतंकवादियों का गढ़ कहा जाता है. बताया जा रहा है कि हिजबुल मुजाहिद्दीन के मोस्ट वांटेड आतंकी सैयद सलाहुद्दीन के दूसरे बेटे को गिरफ्तार करने के बाद आतंकियों ने ये शुरू किया है. हालांकि, इस मामले में पुलिस का कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. Also Read - Encounter in j&K Update: सुरक्षाबलों ने शोपिया एनकाउंटर में 3 आतंकवादियों को मार गिराया

बता दें कि बुधवार को पुलवामा में आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक जवान के बेटे आसिफ रफीक को अगवा कर लिया था. बताया जा रहा है कि घर में अचानक ही घुसे नकाबपोश आतंकियों ने वारदात को अंजाम दिया. आसिफ के पिता की पोस्टिंग श्रीनगर में है.