श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के त्राल सहित दक्षिण के इलाके में आतंकवादियों ने पुलिसकर्मियों के घर पर हमला बोल दिया. रिपोर्ट के मुताबिक, मिडोरा इलाके में आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के परिजनों को अगवा कर लिया है, इसमें पुलिसमैन गुलाम हसन मीर का बेटे अहमद भी शामिल है. बता दें कि गुरुवार की शाम को भी एक पुलिसकर्मी के बेटे को अगवा किया गया था.Also Read - जम्मू-कश्मीर: कुलगाम में मुठभेड़, सुरक्षाकर्मियों ने लश्कर के 2 आतंकियों को किया ढेर

दूसरी तरफ बताया जा रहा है कि आतंकियों ने शोपियां, कुलगाम, अनंतनाग और अवंतिपोरा इलाके से पांच लोगों को अगवा किया है. इसमें सभी के परिजन जम्मू-कश्मीर पुलिस में काम करते हैं. वहीं, गांदरबल में अगवा किए गए पुलिसकर्मी के परिजन को आतंकवादियों ने बुरी तरह पीट कर छोड़ दिया है. Also Read - जम्मू कश्मीर के डोडा में एक आतंकी गिरफ्तार, कब्जे से मिली चीनी पिस्तौल और मैगजीन

त्राल को हिजबुल आतंकवादियों का गढ़ कहा जाता है. बताया जा रहा है कि हिजबुल मुजाहिद्दीन के मोस्ट वांटेड आतंकी सैयद सलाहुद्दीन के दूसरे बेटे को गिरफ्तार करने के बाद आतंकियों ने ये शुरू किया है. हालांकि, इस मामले में पुलिस का कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. Also Read - जम्मू-कश्मीर: सस्पेंड IPS अफसर बसंत रथ ने दिया इस्तीफा, राजनीति में शामिल होने का जताया इरादा

बता दें कि बुधवार को पुलवामा में आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक जवान के बेटे आसिफ रफीक को अगवा कर लिया था. बताया जा रहा है कि घर में अचानक ही घुसे नकाबपोश आतंकियों ने वारदात को अंजाम दिया. आसिफ के पिता की पोस्टिंग श्रीनगर में है.