जम्मू: पाकिस्तानी सैनिकों ने सोमवार को अखनूर सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास स्थित गांवों और अग्रिम चौकियों को निशाना बनाते हुए बीती रात जमकर गोलाबारी की. पिछले दो दिन के शांति काल का पाकिस्तानी सेना ने उल्लंघन किया. रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा, सीमा-पार से गोलीबरी देर रात करीब तीन बजे शुरू हुई जो सुबह साढ़े छह बजे तक चली. उन्होंने बताया कि पाकिस्तान ने बिना किसी उकसावे के अग्रिम चौकियों और गांवों पर मोर्टार और छोटे गोले दागने शुरू कर दिए थे.

अमित शाह का दावा, बालाकोट एयर स्ट्राइक में मारे गए 250 आतंकवादी

दिया मुंह तोड़ जवाब
सैन्य प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए कहा ‘भारतीय सेना ने भी इसका मुंह तोड़ जवाब दिया.’ उन्होंने बताया कि भारत की ओर किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है. राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में शनिवार दोपहर को दो घंटे तक सीमा-पार से हुई गोलीबारी के अलावा शुक्रवार रात से नियंत्रण रेखा पर शांति बनी हुई थी. इस शांति काल में सीमा पर रहने वाले लोगों को सीमा-पार गोलीबारी से काफी राहत मिली, विशेषकर पुछं और राजौरी जिले में जहां पाकिस्तान ने 50 से अधिक बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है. इसमें एक परिवार के तीन सदस्य सहित चार लोगों की मौत हुई है और कई लोग घायल हुए हैं.

जैश-ए-मोहम्मद के पुलवामा में 14 फरवरी को किए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 से अधिक जवानों के शहीद होने के बाद भारत के 26 फरवरी को खैबर पख़्तूनख़्वा प्रांत के बालाकोट में जैश-ए मोहम्मद के आतंकवादी शिविर पर हमला करने के बाद पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम का उल्लंघन बढ़ गया है. हालांकि भारतीय सेना भी पाकिस्तान के सीज फायर उल्लंघन का मुंहतोड़ जवाब दे रही है.

इलाज करा रहे विंग कमांडर अभिनंदन ने अफसरों से कहा, जल्‍द उड़ाना चाहता हूं फाइटर प्‍लेन