नई दिल्ली: जहां एक ओर पूरी दुनिया कोरोना वायरस के संकट से जूझ रही है वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. इस मुश्किल दौर में भी पाकिस्तान दुनिया का साथ देने की बजाय आतंवाद को तालीम और पनाह देकर उसे लगातार बढ़ाने का काम कर रहा है. इस संकट की स्थित में भारत मजबूती से कोरोना से लड़ रहा है लेकिन पाकिस्तान बार बार ऐसी हरकते कर रहा है जिससे भारत का ध्यान भटकाया जा सके. गुरुवार की रात को एक बार फिर से पाकिस्तान ने नापाक हरकत करते हुए सीजफायर का उल्लंघन किया और कुठआ जिले के हीरानगर में सेक्टर में गोलाबारी की. Also Read - जम्मू-कश्मीर: LOC पर भारी गोलीबारी, पाकिस्तान ने बिना किसी उकसावे के फायरिंग की

पाकिस्तान की तरफ से पूरी रात सीज फायर का उल्लंघन जारी रहा. भारतीय जवानों ने पाकिस्तान की इस हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया. भारतीय जवानों और पाकिस्तान के बीच सुबह से गोलीबारी जारी रही. जानकारी के अनुसार पाकिस्तान ने हीरानगर सेक्टर के छान टांडा और करोल मंथरा इलाके में गुरुवार रात साढ़े आठ बजे से लेकर सुबह चार बजे तक गोलीबारी की. पाकिस्तान की तरफ से लगातार रिहायशी इलाकों को निशाना बनाया जा रहा है. Also Read - कश्मीर: कोरोना पॉजिटिव थे कुलगाम मुठभेड़ में मारे गए हिज्बुल के दोनों आतंकी

लोगों ने बाताय कि शाम के करीब आठ बजे थे हम लोग खाना खा कर सोने की तैयारी कर रहे थे तभी पाकिस्तान की तरफ से गोली बारी होने लगी. नागरिकों ने कहा कि डर की वजह से कई परिवारों को पूरी रात बंकरों में ही बितानी पड़ी. बता दें कि इस समय हीरानगर सेक्टर में बांध का काम चल रहा है और पाकिस्तान गोली बारी करके बांध निर्माण के काम में बाधा डालना चाहता है. Also Read - जम्मू-कश्मीर: कुलगाम में हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने मार गिराए दो आतंकवादी, जवान घायल

जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास बृहस्पतिवार रात को पाकिस्तानी सेना की ओर से की गयी गोलीबारी और गोलाबारी में भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने सुंदरबनी सेक्टर के अग्रिम क्षेत्रों में गोलीबारी की. सूत्रों के अनुसार संघर्षविराम उल्ंलघन की इस घटना में एक जवान शहीद हो गया. उन्होंने बताया कि सीमा पर तैनात भारतीय जवानों ने जवाबी कार्रवाई करते हुए गोलीबारी की और अंतिम रिपोर्ट मिलने तक दोनों ओर से गोलीबारी जारी थी.