नई दिल्लीः झारखंड चुनाव के नतीजे आने में कुछ ही मिनटों का समय बाकी है. सभी राजनीतिक दलों में परिणामों को लेकर गहमागहमी नजर आ रही है. सभी दल अपने आप को जीत की ओर अग्रसर बता रही हैं लेकिन सच्चाई क्या है यह दोपहर तक काफी हद तक साफ हो जाएगा. आज के नतीजों से साफ हो जाएगा कि जनता की परीक्षा में कौन पास हुआ कौन फेल. इस पूरे चुनाव नतीजों पर एक सीट ऐसी है जिस पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं. हम बात कर रहे हैं जमशेदपुर पूर्व विधानसभा सीट की. Also Read - झारखंड हारने के बाद भाजपा ने रघुबर से किया किनारा! इस 'भरोसेमंद' चेहरे को अपनाने की बना रही योजना

झारखंड में सबकी निगाहें रघुवर दास के गढ़ जमशेदपुर पूर्व सीट पर होगी. जमशेदपुर पूर्वी इस बार जहां रघुवर सरकार में ही मंत्री रहे सरयू राय ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. सरयू राय ने रघुवर दास के खिलाफ निर्दलीय मैदान में ताल ठोंका और उन्हें कड़ी टक्कर दी है. दोनों ही नेताओं के बीच चुनावी कैंपेन के दौरान कड़ी टक्कर देखने को मिली थी. Also Read - रघुबर दास के खिलाफ FIR दर्ज, हेमंत सोरेन की जाति को लेकर दिया था आपत्तिजनक बयान  

अगर कांग्रेस की बात करें तो पार्टी नें गौरव वल्लभ को इस सीट से मैदान में उतारा है. गौरव वल्लभ कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं और माना जा रहै है कि वह इस बार के परिणामों में काफी असर डाल सकते हैं. Also Read - हेमंत सोरेन ने सोनिया गांधी को दिया शपथ ग्रहण में शामिल होने का न्यौता, पीएम मोदी को भी बुलाएंगे

सीएम रघुवर दासे के लिए यह सीट काफी अहम है क्योंकि वह इस सीट से लगातार पांच बार विधायक रह चुके हैं. अब यह देखना काफी दिलचस्प होगा कि क्या छठी बार वह फिर से यहां से जीत कर विधानसभा पहुंचते हैं या नहीं.

अगर मतदाता संख्या की बात करें तो जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र में लगभग तीन लाख वोटर्स हैं. इसमें एक लाख 56 हजार 490 पुरुष और एक लाख 43 हजार 981 महिला मतदाता शामिल हैं.