रांची: झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) ने बुधवार को ‘हम आएंगे कर दिखाएंगे’ के संकल्प के साथ बुधवार को अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी किया. इसमें राज्य में कानून एवं व्यवस्था दुरुस्त करने को सर्वोच्च प्राथमिकता पर रखा गया है तथा दस वर्ष के भीतर सभी झारखंडवासियों को पक्का मकान देने की बात कही गई है. झाविमो(प्र) के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने अपनी पार्टी का घोषणा पत्र जारी करते हुए राज्य की जनता से कानून एवं व्यवस्था, भ्रष्टाचार, शिक्षा, रोजगार, बिजली, मनरेगा, स्वास्थ्य, पेयजल सहित 21 बिंदुओं पर तेजी से काम करने का वादा किया है.

झाविमो के घोषणा पत्र में सभी परिवारों 10 वर्षो के अंदर पक्का आवास उपलब्ध कराने, 90 दिन के अंदर सभी परिवारों को राशन कार्ड उपलब्ध कराने, प्रत्येक पंचायत में दो स्वास्थ्यकर्मियों की नियुक्ति करने, प्रखंड स्तर के अस्पतालों में डॉक्टर और दवा की व्यवस्था करने का वादा किया गया है.

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019: भाजपा ने जारी किया घोषणा पत्र, 20 लाख युवाओं को रोजगार के लिए तैयार करेगी सरकार

घोषणा पत्र में अगले पांच सालों में हर घर में नल के माध्यम से शुद्ध पेयजल पहुंचाने का वादा किया गया है. इसके अलावा सभी जिला मुख्यालयों को रेल सेवा से जोड़ने और झारखंड में अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण का भरोसा दिया गया है.

झाविमो ने मनरेगा मजदूरों को 100 दिनों की बजाय 150 दिन काम और 171 रुपये मजदूरी के बजाय 300 रुपये मजदूरी देने की बात की है. इसके अलावा घोषणा पत्र के माध्यम से झाविमो ने राज्य की जनता से गरीबी हटाने, बेरोजगारी दूर करने, बिगड़ी हुई शैक्षणिक व्यवस्था को सुधारने, बंद प्राथमिक स्कूलों को फिर से चालू करने और राज्य को भ्रष्टाचारमुक्त बनाने का संकल्प लिया है.