रांची: झारखंड में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने मंगलवार को आरोप लगाया कि राज्य की हेमंत सोरेन सरकार आदिवासियों पर हो रहे हमलों पर मौन है और इन हमलों के दोषियों को बचाने में लगी हुई है. प्रकाश ने आरोप लगाया कि सोमवार को धार्मिक कार्यक्रम के दौरान दूसरे संप्रदाय के लोगों ने अकारण हमला कर महिलाओं समेत लगभग दर्जन भर लोगों को गंभीर रूप से घायल कर दिया था. प्रकाश ने इस घटना में घायल हुए लोगों से मुलाकात की. Also Read - कांग्रेस आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति में शामिल, सोनिया कर रहीं जनता को गुमराह: भाजपा

उन्होंने आरोप लगाया कि आदिवासी हित की बात करने वाले मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के राज में राज्य की राजधानी में भी आदिवासी सुरक्षित नहीं हैं. उन्होंने कहा कि पुलिस को सीसीटीव फुटेज के आधार पर अपराधियों की शिनाख्त कर 24 घंटे के भीतर उनकी गिरफ्तारी सुनिश्चित करनी होगी अन्यथा भाजपा आंदोलन करने को मजबूर होगी. दूसरी ओर पुलिस ने इस घटना की पुष्टि की है लेकिन कहा कि मामले की जांच की जा रही है. Also Read - कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अहम भूमिका निभाने वालों के अभिनंदन के लिए ये अभियान चलाएगी भाजपा

बता दें कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने चुनाव जीतने के बाद यह दावा किया था कि उनके शासन में राज्य में कोई भूखा नहीं मरेगा और न ही उनकी सरकार द्वेष की राजनीति करेगी. हेमंत सोरेन ने कहा था कि सभी जानते हैं कि पिछली सरकार में भूख से भी अनेक मौतें हुईं लेकिन नई सरकार के कार्यकाल में ऐसी कोई मौत नहीं होगी. Also Read - भाजपा प्रमुख ने तब्लीगी जमात पर साधा निशाना, कहा- इनके सदस्य मानव बम की तरह घूम रहे हैं 

उन्होंने दोहराया था कि उनकी सरकार द्वेष के भाव से राजनीति करने में विश्वास नहीं करती है न ही वह व्यक्तिगत रंजिश में विश्वास रखते हैं. उन्होंने कहा था कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि उनकी सरकार के सामने बड़ा आर्थिक संकट है क्योंकि राज्य सरकार के खजाने खाली हैं लेकिन वह इन चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार हैं.

 

इनपुट-भाषा