नई दिल्ली: झारखंड के मुख्यमंत्री बनने जा रहे झामुमो नेता हेमंत सोरेन ने बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात कर उन्हें अपने शपथ ग्रहण में शामिल होने का न्यौता दिया. सोरेन ने यह भी कहा है कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को भी आमंत्रित करेंगे. वह बुधवार शाम सोनिया के आवास पर पहुंचे और उन्हें आमंत्रित किया. सोरेन ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को भी आमंत्रित किया है.

सोरेन ने कहा, ‘‘हमने सोनिया जी से मुलाकात कर उन्हें शपथ ग्रहण में आमंत्रित किया. राहुल जी से मिलकर उन्हें आमंत्रित किया है.’ उन्होंने उम्मीद जताई कि दोनों नेता उनके शपथ ग्रहण में मौजूद होंगे. उनके साथ कांग्रेस नेता के. सी. वेणुगोपाल और आरपीएन सिंह भी थे जो झारखंड में पार्टी के प्रभारी हैं.

एक प्रश्न के उत्तर में झामुमो नेता ने कहा, ‘‘यह गठबंधन पांच साल सरकार चलाएगा. इसमें कोई संदेह नहीं है. जनता ने जिस आशा और आकांक्षा के साथ बहुमत दिया है, उसे हम लोग पूरा करेंगे.’’ दरअसल, झारखंड विधानसभा चुनाव में झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन की जीत के बाद 29 दिसंबर को सोरेन मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं.

झामुमो ने बुधवार को कहा कि राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है. एक दिन पहले सोरेन ने राजभवन में राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया और उन्हें 50 विधायकों के समर्थन का पत्र पेश किया. चुनाव में गठबंधन को 81 सदस्यीय विधानसभा में 47 सीटें मिलीं. झामुमो को 30, कांग्रेस को 16 और राजद को एक सीट मिली. भाजपा पहली बार झारखंड विधानसभा चुनाव अकेले लड़ी और वह 25 सीटों पर सिमट गई.