नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में रविवार को एक पुलिस थाने पर आतंकवादी हमले में गोली लगने से पुलिसकर्मी की जान चली गई. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि रविवार तड़के दक्षिण कश्मीर में पुलिस थाने पर आतंकवादियों ने अंधाधुंध गोलीबारी की. उन्होंने बताया कि घायल पुलिसकर्मी को गंभीर हालत में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आतंकवादियों ने ग्रेनेड से हमला किया. क्षेत्र में कॉर्डन और खोज ऑपरेशन चल रहा है. जिला अस्पताल में डॉक्टरों ने पुलिसकर्मी को डेड घोषित कर दिया.

इस बीच, कुपवाड़ा जिले के तंगधार सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना की मदद से की जा रही घुसपैठ की कोशिश को विफल कर दिया गया. सेना ने संघर्ष विराम उल्लंघन और घुसपैठ की कोशिश का करारा जवाब दिया. सेना के एक अधिकारी ने रविवार को कहा, ‘उत्तर कश्मीर जिले के तंगधार सेक्टर में शनिवार देर रात पाकिस्तान सेना ने संघर्ष विराम उल्लंघन किया और आतंकवादियों ने घुसपैठ की कोशिश की. अधिकारी ने कहा, ‘हमारी सेना ने कड़ा जवाब दिया और पाकिस्तानी सेना की गोलीबारी की आड़ में की जा रही घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया.’ उन्होंने बताया कि भारत की ओर से किसी तरह के नुकसान या किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.

गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद पर वैश्विक संधि को स्वीकार करने की दिशा में संयुक्त राष्ट्र में प्रगति नहीं होने की भारत ने तीखी आलोचना की और शनिवार को कहा कि ऐसी निष्क्रियताओं के कारण ही उन आतंकवादियों पर डाक टिकटें जारी कर उन्हें महिमामंडित किया जा रहा है जिनके सिर पर इनाम घोषित है.

भारत ने पिछले हफ्ते विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उनके पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी की संयुक्त राष्ट्र में मुलाकात को रद्द कर दिया था. मारे गए कश्मीरी आतंकवादी बुरहान वानी का महिमामंडन करते हुए पाकिस्तान द्वारा उस पर डाक टिकट जारी किए जाने को मुलाकात रद्द करने के कारणों में से एक बताया गया था. सुषमा ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 73 वें सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले पांच साल से, हर साल भारत इस मंच से कहता रहा है कि आतंकवादियों और उनके संरक्षकों पर काबू के लिए सूचियां पर्याप्त नहीं हैं. उन्होंने इस क्रम में अंतरराष्ट्रीय कानून की जरूरत पर बल दिया. विदेश मंत्री के बयान के 12 घंटे के अंदर ही शोपिया में आतंकवादी हमला हुआ है.