श्रीनगर:  जम्मू एवं कश्मीर में दो दिन से हो रही बर्फबारी व मैदानी इलाकों में भारी बारिश हुई जिसके चलते तापमान में काफी गिरावट आई. पारा शून्य से नीचे लुढक गया, वहीँ कश्मीर घाटी में 2009 के बाद अब स्नो फाल देखने को मिला. कश्मीर घाटी बिजली कटौती के चलते अंधेरे में डूबी रही. प्रशासन ने शनिवार को हुई भारी बर्फबारी को इसकी वजह बताया है.

VIDEO: जम्मू-कश्मीर में बर्फबारी व बारिश से लुढ़का पारा, भू-स्खलन के चलते हाइवे बंद

कश्मीर के चीफ इंजीनियर (इलेक्ट्रिक मेन्टेनेंस) हशमत काजी ने कहा कि बिजली की आपूर्ति लाइनों पर पेड़ों की शाखाएं गिरने के चलते यह समस्या उत्पन्न हुई है. साल 2009 के बाद घाटी में नवंबर में पहली बार बर्फबारी हुई है. काजी ने कहा, “ट्रांसमिशन लाइनों में व्यवधान के कारण आमतौर पर 1300 मेगावाट होने वाली बिजली आपूर्ति अब 80 मेगावाट तक आ गई है.” उन्होंने कहा कि बिजली विकास विभाग की पूरी टीम ट्रांसमिशन लाइनों और ग्रिड स्टेशनों की बहाली पर काम कर रही है.

उड़ाने रद्द, बर्फबारी में फंसे पांच सौ लोगों का रेस्क्यू 
घाटी और शेष देश के बीच उड़ानें और सड़क मार्ग संपर्क भी बंद रहा. कम दृश्यता (लो-विजिबिलटी) के चलते शनिवार दोपहर से श्रीनगर हवाई अड्डे से सभी उड़ानों को रद्द करना पड़ा, जबकि जवाहर सुरंग क्षेत्र में भारी बर्फबारी के चलते श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग अवरुद्ध हो गया. बर्फबारी ने श्रीनगर-लेह राजमार्ग और मुगल रोड को भी बंद कर दिया है जो घाटी को लद्दाख क्षेत्र और जम्मू संभाग के राजौरी जिले से जोड़ता है.अंतर जिला परिवहन भी प्रभावित हुआ क्योंकि सड़कों पर बर्फ होने के चलते फिसलन की स्थिति बन गई. अधिकारियों ने बताया कि मुगल रोड पर पीर की गली और श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग के जवाहर सुरंग क्षेत्र में भारी बर्फबारी में फंसे करीब पांच सौ लोगों को निकाला गया है.

सफेद चादर में लिपटा समूचा इलाका

सफेद चादर में लिपटा समूचा इलाका


मौसम की सबसे सर्द रात

वही श्रीनगर में शनिवार की रात मौसम की सबसे सर्द रात रही. कश्मीर में रविवार को न्यूनतम तापमान हिमांक बिंदु से नीचे पहुंच गया. श्रीनगर में मौसम की सबसे सर्द रात देखने को मिली, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ. मौसम विभाग ने यह जानकारी दी. पहलगाम में तापमान शून्य से 0.5 डिग्री नीचे, गुलमर्ग में शून्य से 5.0 डिग्री नीचे, लेह में शून्य से 1.5 डिग्री नीचे और कारगिल में शून्य से 4.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ. विभाग के मुताबिक, जम्मू क्षेत्र में बनिहाल सबसे ठंडा रहा, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया, जबकि बटोटे में 1.5 डिग्री, भदरवाह में 2.6 डिग्री, कटरा में 10.4 डिग्री और जम्मू शहर में 13.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को कहा कि शनिवार को ऊपरी इलाकों में भारी बर्फबारी होने और मैदानी इलाकों में सामान्य बारिश होने के बाद रविवार से मौसम में सुधार होने की उम्मीद है. उन्होंने कहा, “जम्मू एवं कश्मीर में सोमवार से दो से लेकर तीन सप्ताह तक शुष्क मौसम रहने की संभावना है. (इनपुट एजेंसी)

पहाड़ों पर हिमपात व बारिश ने गिराया तापमान, जानिये किन शहरों में गिरी सबसे ज्यादा बर्फ