PM Narendra Modi All Party Meet: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गुरुवार को जम्मू-कश्मीर की अलग-अलग पार्टियों के 14 नेताओं के साथ बैठक की. दोपहर में शुरू हुई ये बैठक करीब पौने चार घंटे तक चली. इस बैठक से इतर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (West Bengal CM Mamata Banerjee) के कश्मीर पर दिए बयान का चर्चा हो रही है.Also Read - Asansol By-Election Result Declared: आसनसोल में छाया 'बिहारी बाबू' का जलवा, भाजपा की अग्निमित्र पॉल को दी बड़ी पटखनी

उन्होंने पीएम मोदी की बैठक पर तंज कसते हुए कथित तौर पर विवादित बयान दे डाला. सीएम ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से राज्य का दर्जा छीनने की क्या जरुरत थी. इससे देश को बिल्कुल भी मदद नहीं मिली है. जम्मू-कश्मीर की आजादी नहीं छीननी चाहिए. उन्होंने आगे कहा कि वहां ‘निरंकुश’ शासन से काफी बदनामी हुई. पीएम मोदी की बैठक किस मुद्दे पर कुछ पता नहीं. Also Read - BJP press conference: प्रेस कॉन्फ्रेंस में TMC पर बिफरे भाजपा प्रवक्ता सम्बित पात्रा, लगाया पश्चिम बंगाल में धमकाने का आरोप | Watch Video

जम्मू-कश्मीर पर सर्वदलीय बैठक में किस नेता ने क्या कहा?
गुलाम नबी आजाद (कांग्रेस)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जम्मू-कश्मीर के ऊपर बुलाई गई सर्वदलीय बैठक के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद (Congress Leader Ghulam Nabi Azad) ने कहा कि बैठक में हमने कांग्रेस की तरफ से सरकार के सामने 5 बड़ी मांगे सरकार के सामने रखी. इसमें केंद्र राज्य का दर्जा जल्द से जल्द से बहाल करे. हमने बैठक में कश्मीरी पंडितों को घाटी में बसाने की बात भी बोली. केंद्र सरकार जल्द से जम्मू-कश्मीर में चुनाव करवाएं. बैठक में 80 फीसदी पार्टियों ने कहा कि 370 का मामला सुप्रीम कोर्ट में है. Also Read - Tripura Civic Election Results: त्रिपुरा निकाय चुनाव में BJP चल रही आगे TMC पिछड़ी, LIVE Updates

अल्ताफ बुखारी (जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी)
जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी के नेता अल्ताफ बुखारी (Jammu Kashmir Apni Party Leader Altaf Bukhari) ने कहा कि 370 का मामला सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में है तो उस पर क्या बात होती. दुख तो हुआ इसकी शिकायत जरूर लोगों ने की लेकिन जब मामला सुप्रीम कोर्ट में है तो उसका फैसला सुप्रीम कोर्ट करेगी. उन्होंने कहा कि आज अच्छे माहौल में वार्ता हुई. सभी ने विस्तार से अपनी बात रखी है. पीएम और गृहमंत्री ने सबकी बातें सुनी. पीएम ने कहा कि डिलिमिटेशन की प्रक्रिया खत्म होने पर चुनाव प्रक्रिया शुरू होगी.

मुजफ्फर हुसैन बेग (पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी- पीडीपी)
जेकेपीसी नेता मुजफ्फर हुसैन बेग (Jammu Kashmir People’s Conference Leader Muzaffar Hussain Baig) ने कहा कि बैठक बहुत शानदार हुई. मैंने कहा कि 370 (Article 370) का मामला सु्प्रीम कोर्ट में है. सुप्रीम कोर्ट धारा 370 के मामले पर फैसला करेगा. मैंने धारा 370 कि कोई मांग नहीं रखी. मैंने कहा कि 370 खत्म करने का फैसला जम्मू-कश्मीर विधानसभा के द्वारा होना चाहिए. जम्मू-कश्मीर को राज्य का दर्जा दिलाने की मांग सभी दलों ने की. PM ने जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने पर सीधे कुछ नहीं कहा. उन्होंने कहा पहले परिसीमन हो.

रविंदर रैना (बीजेपी)
बीजेपी नेता रविंदर रैना (BJP Leader Ravinder Raina) ने कहा कि पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर के सभी नेताओं को विश्वास दिलाया है कि जम्मू-कश्मीर के उज्ज्वल भविष्य के लिए सभी मिलकर कार्य करेंगे. जम्मू-कश्मीर की मजबूती और जनता की भलाई के लिए हर कार्य किया जाएगा जिससे लोगों का भला हो.

कविंदर गुप्ता (बीजेपी)
भाजपा नेता कविंदर गुप्ता (BJP Leader Kavinder Gupta) ने कहा कि 370 जो हट गया है वो वापस आए जाए ऐसा सोचना भी नहीं चाहिए.

उमर अब्दुल्ला (NC)
नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला (National Conference Leader Omar Abdullah) ने कहा कि हमने बैठक में कहा कि 5 अगस्त 2019 को केंद्र सरकार के द्वारा 370 को खत्म करने के फैसले को हम स्वीकार नहीं करेंगे. हम अदालत के जरिए 370 के मामले पर अपनी लड़ाई लड़ेंगे. लोग चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर को पूर्ण रूप से राज्य का दर्जा दिया जाए. प्रधानमंत्री और गृह मंत्री अमित शाह ने बैठक में कहा कि हम चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा जल्द से जल्द मिले और वहां पर चुनाव भी जल्द से जल्द करवाए जाएं.

महबूबा मुफ्ती (पीडीपी अध्यक्ष)
पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (PDP Chief Mehbooba Mufti) ने कहा कि मैंने बैठक में कहा कि जम्मू-कश्मीर के लोग धारा 370 को रद्द होने से नाराज है. हम जम्मू-कश्मीर में धारा 370 को फिर से बहाल करेंगे. इसके लिए हम शांति का रास्ता अपनाएंगे. इस पर कोई समझौता नहीं होगा. मैंने बैठक में प्रधानमंत्री से कहा कि अगर आपको धारा 370 को हटाना था तो आपको जम्मू-कश्मीर की विधानसभा को बुलाकर इसे हटाना चाहिए था. इसे गैरकानूनी तरीके से हटाने का कोई हक नहीं था.

उन्होंने कहा कि हम धारा 370 को संवैधानिक और कानूनी तरीके से बहाल करना चाहते हैं. मैंने बैठक में प्रधानमंत्री की प्रशंसा की और कहा कि आपने पाकिस्तान से बात कर सीजफायर करवाया. घुसपैठ कम हुई यह अच्छी बात है. मैंने PM से कहा कि जम्मू-कश्मीर के लोगों को पाकिस्तान से बात करने पर सुकून मिलता है तो आपको पाकिस्तान से बात करनी चाहिए.

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह
केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह (Union Minister Jitendra Singh) ने कहा कि बैठक में PM ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में सभी जगह विकास पहुंचे इसके लिए साझेदारी हो. विधानसभा चुनाव (J&K Assembly Elections) के लिए डिलिमिटेशन की प्रक्रिया को तेजी से पूरा करना होगा ताकि हर क्षेत्र प्राप्त राजनीतिक प्रतिनिधित्व विधानसभा में प्राप्त हो सकें. डिलिमिटेशन की प्रक्रिया में सभी की हिस्सेदारी हो इसको लेकर बैठक में बातचीत हुई. बैठक में मौजूद सभी दलों ने इस प्रक्रिया में हिस्सा लेने के लिए सहमति जताई. बैठक में PM ने इस बात पर भी जोर दिया कि जम्मू-कश्मीर में शांति बनाए रखने के लिए सभी हितधारकों को साथ चलना होगा.

गृह मंत्री अमित शाह
गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने कहा कि जम्मू-कश्मीर पर आज की बैठक अच्छे माहौल में हुई. सभी ने लोकतंत्र और संविधान के प्रति अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की. जम्मू-कश्मीर में लोकतांत्रिक प्रक्रिया को मजबूत करने पर जोर दिया गया. हम जम्मू-कश्मीर के सभी जगह विकास करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.