जम्मू: पाकिस्तानी सैनिकों ने संघर्ष विराम समझौते का उल्लंघन करते हुए जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा (LoC) के पास अग्रिम चौकियों पर मंगलवार को गोलीबारी की, जिसमें सीमा सुरक्षा बल (BSF) का एक अधिकारी पाओटिनस गुईटे शहीद हो गए हैं. Also Read - Desert Knight 21: आसमान में पहली बार गरजे राफेल, भारत-फ्रांस की एयरफोर्स ने किया युद्धाभ्यास

न्‍यूज एजेंसी एएनआई बताया कि पीआरओ बीएसएफ जम्मू ने कहा, ”पाकिस्तान ने आज से पहले नियंत्रण रेखा के साथ राजौरी सेक्टर में अकारण संघर्ष विराम उल्लंघन का सहारा लिया, जिसमें राजौरी में सीमा सुरक्षा बल के एफडीएल में तैनात बीएसएफ सब इंस्पेक्टर पाओटिनस गुईटे (BSF Sub Inspector Paotinsat Guite)को अपनी जान गंवानी पड़ी. Also Read - चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा- वित्तीय आंकड़ों का जानें क्या है गणित...

अधिकारियों ने बताया कि मेंढर सेक्टर के तारकुंडी इलाके में सीमा पार से बिना किसी उकसावे के गोलीबारी की गई. अधिकारियों ने बताया कि भारतीय सेना ने भी गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया. उन्होंने बताया कि घटना पर विस्तृत जानकारी का अभी इंतजार है.

26 और 27 नवंबर को पाकिस्तान की भारी गोलीबारी में तीन जवान शहीद हो चुके हैं
जम्मू-कश्मीर के सुंदरबन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तान की ओर से की गई 27 नवंबर को की गई गोलीबारी में नायक प्रेम बहादुर खत्री और राइफलमैन सुखबीर सिंह शहीद हो गए थे. 22 साल जवान सुखबीर सिंह पंजाब के तरन तारन जिले के पैतृक गांव खुसासपुरा के रहने वाले थे. वहीं, 26 नवंबर को पुंछ जिले के किरनी और कस्बा सेक्टरों में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में सूबेदार स्वतंत्र सिंह की मौत हो गई थी और एक नागरिक गंभीर रूप से घायल हो गया था.